मंडलीय समीक्षा बैठक में आयुक्त सख्त, स्पष्टीकरण मांगा - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, March 5, 2020

मंडलीय समीक्षा बैठक में आयुक्त सख्त, स्पष्टीकरण मांगा

जल्द से जल्द अन्नदाता की सहमति से बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए जमीन क्रय करने के निर्देश 
योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही किसी भी दशा में नहीं की जाएगी बर्दाश्त 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । पारदर्शी किसान सेवा योजना में जनपद बंादा व हमीरपुर में प्रगति खराब होने पर आयुक्त ने उप निदेशक कृषि प्रसार बांदा तथा उप निदेशक कृषि प्रसार हमीरपुर का स्पष्टीकरण मांगा। आयुक्त चित्रकूटधाम मण्डल गौरव दयाल ने उपरोक्त निर्देश मयूर भवन सभागार में सम्पन्न मण्डलीय समीक्षा बैठक में दिये। उन्होंने संयुक्त निदेशक कृषि को निर्देश दिये कि पारदर्शी किसान सेवा योजना में लक्ष्य के अनुरूप प्रगति सुनिश्चित करायें। आयुक्त ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि जो अन्ना पशु अभी भी सड़कों पर हैं उन्हंे अभियान चलाकर गौशालाओं में भिजवाया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के लिए जो 05 प्रतिशत जमीन अधिग्रहीत होने के लिए रह गयी है उसे किसानों की सहमति से क्रय करने की कार्यवाही की जाए जिससे बुन्देलखण्ड एक्सपे्रस-वे के निर्माण में कठिनाई न हो।
मंडलीय समीक्षा बैठक के दौरान संबोधित करते आयुक्त गौरव दयाल
आयुक्त ने बंादा-नरैनी मार्ग से विद्युत पोल हटवाने तथा हमीरपुर में बाईपास से पोल हटवाने के कार्य की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि विद्युत पोल हटाने का कार्य प्राथमिकता पर कराया जाए तथा यदि 15 दिनों में कार्य मंें अपेक्षित प्रगति नही होती है तो सम्बन्धित विद्युत विभाग के अभियंताओं का वेतन रोकने की कार्यवाही की जायेगी। 50 लाख से अधिक लागत के कार्यों की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिए कि जिन कार्यों के लिए शासन से धनराशि प्राप्त हो गयी है उनका निर्माण 31 मार्च तक सुनिश्चित किया जाए तथा निर्माण कार्यों में मानक के अनुसार गुणवत्ता सुनिश्चित की जाए। आयुक्त ने मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने जनपद में जल संरक्षण के लिए कार्ययोजना बनाकर कार्य करें। उन्होंने अधिशासी अभियंता जल संस्थान को निर्देश दिए कि चित्रकूट में जल संस्थान के लम्बित कार्य शीघ्र प्रारम्भ किये जायें। मुख्यमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने मुख्य विकास अधिकारी बांदा को निर्देश दिए कि आवास निर्माण के कार्य में तेजी लायी जाए। आयुक्त ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुसार वृक्षारोपण का कार्य समय से कराने के लिए अभी से कार्ययोजना बना लें तथा विभाग वार लक्ष्य आवंटित कर दिये जायें। उन्होंने निर्देश दिये कि कोरोना वायरस से बचाव के उपायों का प्रचार-प्रसार किया जाए। आयुक्त ने निर्देश दिए कि आई0जी0आर0एस0 में प्राप्त शिकायतों का समय से निस्तारण सुनिश्चित कराया जाए तथा शिकायतों के निस्तारण में गुणवत्ता पर भी विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वेक्टर जनित रोगों के नियंत्रण के लिए शासन के निर्देशानुसार कार्यवाही समय से सुनिश्चित की जाए। धान खरीद की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने पी0सी0एफु0 के अधिकारियों को निर्देश दिये कि धान खरीद के मूल्य का किसानों को प्राथमिकता पर भुगतान सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने भुगतान लम्बित होने पर नाराजगी व्यक्त की। आयुक्त के लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि अनावश्यक स्पीड ब्रेकर एक सप्ताह में हटवाये जायें। बैठक में जिलाधिकारी बांदा अमित सिंह बंसल, जिलाधिकारी चित्रकूट शेषमणि पाण्डेय, जिलाधिकारी हमीरपुर ज्ञानेश्वर त्रिपाठी, जिलाधिकारी महोबा अवधेश कुमार तिवारी, मुख्य विकास अधिकारी बांदा हरिश्चन्द्र वर्मा, चित्रकूट के डा. महेन्द्र कुमार, महोबा के हीरा सिंह, हमीरपुर के आरके सिंह, संयुक्त विकास आयुक्त रमेशचन्द्र्र पाण्डेय, अपर निदेशक स्वास्थ्य डा. आरबी गौतम, वन संरक्षक के0के0सिंह, मुख्य अभियंता विद्युत, संयुक्त निदेशक कृषि बी0के0सिंह, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या एस0एन0त्रिपाठी, उप निदेशक सूचना भूपेन्द्र सिंह यादव तथा सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages