Latest News

लॉक डाउन :-होने के चलते आसमान छू रहे है सब्जियों के भाव और सरकार के आदेशों की उड़ाई जा रही है धज्जिया

जहाँ एक तरफ हमारे भारत देश के माननीय  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी देश की जानता से हाँथ जोड़ कर अपील किया है की आज से पूरे 21 दिन तक पूरे भारत के सभी राज्यों को लागडाउन किया जा रहा है क्यों की कोरोना महामारी से देश की हर एक जानता की जान बचानी है यदि अभी आप सभी लोग सचेत नहीं हुए तो अत्यंत विकट स्थिति उत्पन्न हो सकती है। मोदी जी ने सख्त कदम उठाते हुए कहा की आज से और अभी से मैंने भारत के हर एक परिवार के घर पर एक लक्छमन रेखा खींचता हूँ कोई भी अपने घर से बाहर बिलकुल भी नहीं निकलेगा आपको और आपके पूरे परिवार को सारी खाद्य सामग्री घर घर तक पहुंचाई जाएगी कोई भी व्यक्ति परेशान न हो सावधानी और धैर्य रखें खाने पीने से लेकर दूध सब्जियो की व  अन्य जरूरत की सामग्री आपको होम डिलेवरी के माध्यम से आप तक पहुँचाया जाएगा उसके लिए पूरी व्यवस्था कर लिया गया है जल्द ही आप सबको हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिया जायेगा हमारा जानता से विनम्र निवेदन है की वो घर से बिलकुल न निकले सख़्ती से सारी जनता को आदेशों का पालन करना होगा एवं प्रसासन को भी कड़ाई से पालन करवाये कोई भी लापरवाही बिलकुल भी नहीं सही जाएगी सरकार के आदेशो के अनुसार सुबह 4 से 11 के बीच में सब्जी रासन दूध आदि खाद सामग्री लेने को जा सकता है लेकिन वो भी सावधानी को ध्यान में रखते हुए मुँह में मास्क को लगा कर ही निकले। 
लोगों में नहीं है प्रसासन का खौफ आदेशो का उलंघन करते हुए निकल रहे घरों से लोग
कानपुर आमजा भारत संवाददाता:-  सुबह करीब 8 बजे बाजारों में काफी मात्रा में जबर्दस्त देखी गई भीड़ व आज फूल की दुकन रासन की दुकानो व सब्जियों की दुकानों में लगा रहा है लोग का जमघट और तो और सबसे बड़ी बता तो यह है की यदि कुछ समय के लिए छूट दिया गया है जनता को जरूरत की वस्तुये लेने को तो इसका मतलब यह नहीं है की जनता एक दुसरे के संपर्क में आने लगे और बिना मास्क लगाए ही घरों से निकलने लगे कोरोना वायरस एक दुसरे के संपर्क में आने से फैलता है इसके बावजूद भी जनता इस वायरस को बहुत हलके में ले रही है।
आज सुबह करीब 8 बजे जब मैं  नौबस्ता बम्बा सब्जी मंडी में मैं सब्जियो  के भाव पता करने गया तो सोचा की आखिर सच क्या है इसका पता लगाया जाये।
आखिरकार क्या सच है और क्या फसाना है आखिर जानता क्यों कह रही है की आलू 40 से 50 रूपये किलो मिल रही है और टमाटर 35 से 40 रूपये किलो है। तो जब मैंने अपना कैमरा चालू किया तो हकीकत कुछ और ही सामने आई मेरे कैमरे के सामने कोई भी सब्जी वाला सही रेंट नहीं बताना चाहा क्यों यह सब के भाव अलग अलग निकले इन सब्जी वालों की मानसिकता इतनी ख़राब हो चुकी है की कैमरे को देखते ही झूठ पे झूठ बोलते दिखाइ दिए इन सब्जी वालो के सामने जब जानता कुछ लेने जाति है तो उनसे मन माफीक पैसे उसूले जाते है और जैसे ही किसी पत्रकार को देखा नहीं की अपने आप अपने भाव को गिरा देते है मेरे कैमरे में आलू के रेंट 25 से 30 रूपये किलो बताया गया जबकि सरकार के आदेशो के अनुसार भी अत्यधिक महंगा है आलू को आप 17 से 19 रूपये किलो से ऊपर नहीं बेंच सकते है अन्यथा आपके ऊपर सख्त से सख्त कार्यवाही भी हो सकती है  इतने सख्त आदेशो के बावजूद भी आज पूरी बम्बा सब्जी मंडी के अंदर मुझे एक भी प्रसासन का पुलिस कर्मी अपनी डियूटी में तैनात नहीं दिखा जबकि ऐसे वक्त में स्वभाविक है कुछ न कुछ तो भीड़ होगी ही लेकिन प्रसासन का भी अपना कुछ  दाइत्व बनता है की ऐसे समय में और ऐसे स्थानों पर अपनी उपस्थित सतर्कता पूर्वक दिखाए ताकी लोगों को एक दुसरे के संपर्क में आने से रोका जा सके उचित दूरियाँ बना कर ही समान वगैरह खरीदे। मैं करीब 30 मिनट से ज़्यदा पूरे बाजार में रहा और वंहा पर हो रही जनता की हर एक हरकत को हमारे कैमरे ने कैद किया एवं उनकी समस्याओ को भी मैंने सुना,  सभी ने अपनी अपनी समस्यो को हमारे कैमरे में बताया। मेरा माननीय जिलाधिकारी डॉ ब्रम्ह देव राम तिवारी जी से आग्रह है की बम्बा सब्जी मंडी के अंदर कमसेकम 10 से 15 पुलिस कर्मियों की डियूटी उस वक्त होनी अत्यंत ज़रूरी जिस वक्त जनता घरों का सामान लेने को निकलती है ताकी कोई भी एक दुसरे के संपर्क में न आ सके एक दुसरे से दूरियाँ बना कर व मास्क लगा कर घर से निकले तकी इस भयावय कोरोना महामारी से हिंदुस्तान के हर एक व्यक्ति की जान को बचाया जा सके।

No comments