Latest News

जनविरोधी केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि पर जताई नाराजगी 
धरना-प्रदर्शन करके राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

बांदा, कृपाशंकर दुबे । लगातार पेट्रोलियम पदार्थों में मूल्यवृद्धि किए जाने से कांग्रेसियों में उबाल आ गया। मूल्य वृद्धि के विरोध में कांग्रेसियों ने जोरदार धरना-प्रदर्शन किया। केंद्र और प्रदेश सरकार को जनविरोधी बताते हुए जमकर नारेबाजी की। इसके बाद राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा। इसमें मूल्य वृद्धि वापस लेने की मांग की गई है।
अशोक स्तंभ तले प्रदर्शन करते कांग्रेसी
पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत सोमवार को कांग्रेस कार्यकर्ता स्टेशन रोड स्थित पार्टी कार्यालय पर एकत्र हुए। जिलाध्यक्ष राजेश दीक्षित की अगुवाई में कांग्रेसजन केंद्र और प्रदेश सरकारों के खिलाफ नारेबाजी करते हुए स्वतंत्रता स्मारक अशोक लाट पहुंचे। यहां कांग्रेसियों ने देर तक धरना-प्रदर्शन किया। बाद में कलक्ट्रेट में राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा। इससे पहले जिलाध्यक्ष ने कहा पेट्रोल-डीजल पर मूल्य वृद्धि से हर चीज पर महंगाई बढ़ेगी। उन्होंने इसे जन विरोधी फैसला बताया। कहा कि भाजपा सरकार महंगाई से आमजन की कमर तोड़ने का कार्य कर रही है। रोजमर्रा की जरूरत वाली वस्तुओं की कीमतों में हो रही वृद्धि पर प्रदेश सरकार तत्काल रोक लगाए। प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ रही है। इससे सरकार से लोगों का भरोसा उठ गया है। कांग्रेस जनता की समस्याओं को लेकर सड़क से लेकर सदन तक लड़ेगी। राष्ट्रपति को ज्ञापन भेज कर पेट्रोलियम पदार्थों में की गई मूल्यवृद्धि वापस लिए जाने की मांग की। धरना-प्रदर्शन और ज्ञापन देने वालों में नगर अध्यक्ष पुष्पेंद्र श्रीवास्तव, युकां अध्यक्ष सद्दाम खां, इरफान खां, केशव पाल, राजेश गुप्ता पप्पू, सुखदेव गांधी, पिप्पी चैरसिया, वारिस अली, कुलदीप मिश्रा, आशुतोष द्विवेदी, पवन देवी कोरी, कुतैबा जमां खां, गीता रानी, मुमताज अली, संतोष कुमार द्विवेदी, केपी सेन, अशरफ उल्ला रंपा, रेखा, राकेश सोनी, मुन्ना खां, मकसूद अहमद समेत तमाम कांग्रेसी शामिल रहे। 

No comments