Latest News

चाचा निकला बालिका का हत्यारोपी

निशानदेही पर आलाकत्ल चाकू बरामद
चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । बालिका की हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा करते हुए हत्यारोपी को दबोचा है। निशानदेही पर आलाकत्ल चाकू बरामद कर कार्यवाही की है।
एएसपी बलवंत चैधरी ने बताया कि दस मार्च को ग्राम खण्डेहा निवासी बृजलाल मौर्य पुत्र स्व सूरजवान मौर्य ने मऊ थाने में तहरीर दिया था कि अज्ञात व्यक्ति ने 10 वर्षीय पुत्री आरती की धारदार हथियार से हत्या कर शव कुयें में फेंक दिया है। इस पर पुलिस ने मामला पंजीकृत किया था। पुलिस अधीक्षक ने घटना स्थल का निरीक्षण
जानकारी देते अपर एसपी।
कर शीघ्र अनावरण के निर्देश दिए। थाना प्रभारी निरीक्षक सुभाषचन्द्र चैरसिया ने टीम के साथ बालिका की हत्या की घटना का खुलाशा करते हुये आरोपी मुन्नू मौर्य पुत्र सुन्दर निवासी खण्डेहा को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। प्रभारी निरीक्षक ने घटना स्थल पर उपलब्ध साक्ष्यों एवं गवाहों के बयानों के आधार पर संदिग्धों से पूछताछ की। आरोपी पर शुरु से ही संदिग्ध गतिविधियां प्रदर्शित हुई। अन्य संदिग्धों से पूछताछ के उपरांत यह पाया गया कि अंतिम समय तक गिरफ्तार आरोपी ही घटना स्थल पर मौजूद था। जब कड़ाई से पूछताछ की तो आरोपी ने जुर्म स्वीकार करते हुये बताया कि मृतका की मां तथा उसके बीच अवैध सबंध थे। 10 मार्च को मृतका ने उसे तथा उसकी मां को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। इस राज को छिपाने के लिये उसने चाकू से बालिका की हत्या कर शव कुए में फेक दिया था। आरोपी की निशानदेही पर विवेचक ने आलाकत्ल चाकू बरामद किया है। 

आरोपो को बताया निराधार
मऊ (चित्रकूट)। मृतक बालिका के माता-पिता ने संपूर्ण समाधान दिवस में सौपे पत्र में हत्यारोपी पर लगाए गए आरोपों को निराधार बताया है। अवैध संबंध की कहानी मनगढ़ंत है। कोतवाली पुलिस थर्ड डिग्री का इस्तेमाल कर मृतका के चाचा को फंसा रही है। आरोपी चाचा पीड़ित मां-बाप के घर का सदस्य है। वह ऐसा कदापि नहीं कर सकता। वास्तविक आरोपी का पता लगाने के बजाए पुलिस जबरन झूठा फंसा रही हैं। पत्र में न्याय की गुहार लगाई है।

No comments