Latest News

संगठन की पहल पर सीएम ने मूल्यांकन कार्य किया रद्द- त्रिपाठी

पुरानी पेंशन बहाली व वित्त विहीन शिक्षकों की मांगों को लेकर किया जायेगा आन्दोलन

फतेहपुर, शमशाद खान । शिक्षक विधायक सुरेश कुमार त्रिपाठी ने अपने एक दिवसीय भ्रमण में कहा कि वर्तमान समय में कोरोना वायरस अपने पैर पसार रहा है। मूल्यांकन केन्द्रों में इसके बचाव के कोई साधन उपलब्ध नहीं है। संगठन की पहल को संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मूल्यांकन कार्य को फिलहाल रद्द कर दिया है। पुरानी पेंशन बहाली व वित्त विहीन शिक्षकों की मांगों को लेकर संगठन द्वारा शीघ्र आन्दोलन किया जायेगा। 
बैठक में भाग लेते शिक्षक विधायक सुरेश कुमार त्रिपाठी।
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ जिला इकाई की एक बैठक जिलाध्यक्ष आलोक शुक्ला की अध्यक्षता में आयोजित हुयी। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में शिक्षक विधायक सुरेश कुमार त्रिपाठी ने शिरकत की। बैठक को सम्बोधित करते हुए शिक्षक विधायक ने कहा कि कोरोना बीमारी विश्व में पैर पसार रही है। जिसके प्रकोप के कारण प्रदेश की समस्त शिक्षण संस्थाएं दो अप्रैल तक बंद कर दी गयी हैं। जबकि शिक्षक मूल्यांकन कार्य में लगाये गये थे। जिनके लिए न तो मूल्यांकन केन्द्र में कोई भी ढांचागत सुविधा है और न ही किसी प्रकार की चिकित्सा सुविधा है। इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री व शासन से आग्रह किया गया कि मूल्यांकन कार्य को अन्य व्यवस्थाओं के समानान्तर स्थगित कर दिया जायेगा। इसका संज्ञान लेकर मुख्यमंत्री ने तत्काल प्रभाव से निर्णय लेकर शिक्षक/कर्मचारी हित में मंगलवार को आदेश पारित कर दिया। जो संगठन की दूरदर्शिता व प्रभाव का परिणाम है। उन्होने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली व वित्त विहीन शिक्षकों को समान कार्य हेतु समान वेतन दिलाये जाने के लिए संगठन द्वारा आन्दोलन किया जायेगा। बैठक में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कमल सिंह चैहान, अतुल सिंह यादव, अर्पित शर्मा, विनोद कुमार, विधायक प्रतिनिधि धनराज सिंह, महेन्द्र पाल सिंह राठौर, अनुज त्रिवेदी, दिनेश द्विवेदी, भानु प्रताप सिंह, धर्मेन्द्र सिंह आदि मौजूद रहे। 

No comments