Latest News

फसल क्षति का नहीं हुआ सही आंकलन

भाकियू के नेतृत्व में किसानों ने प्रदर्शन कर सौपा पत्र

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। तहसील मुख्यालय में सोमवार को भाकियू की मासिक बैठक हुई। इसके बाद सैकड़ों किसानों ने चार सूत्रीय मांगों के संबंध में धरना प्रदर्शन कर उप जलाधिकारी राजबहादुर को ज्ञापन सौंपा है। मांग किया कि तहसील क्षेत्र के सभी गांवों में असामयिक अतिवृष्टि, ओलावृष्टि से हुए नुकसान का सही आकलन कराया जाए। दलहन, तिलहन, गेहूं, जौ आदि फसलों के नुकसान का अधिकतम मुआवजा दें। सितंबर माह में
प्रदर्शन करते किसान।
यमुना नदी की बाढ़ से लगभग 25 गांव की फसल को क्षति पहुंची। जिसका मुआवजा व फसल बीमा आज तक नहीं मिला। अतिशीघ्र पीड़ितों को राहत प्रदान करें। किसान क्रेडिट कार्ड से लिये गए ऋण, विद्युत बिल जमा करने की स्थिति में नहीं है। ऐसे में वसूली स्थगित की जाए। कृषि ऋण व विद्युत बिल माफ हों। मऊ तहसील क्षेत्र के 61 गांव प्रभावित दिखाए गए हैं, जो नाकाफी है। जिसकी सूची बढ़ाई जाए। इस मौके पर भाकियू जिलाध्यक्ष राम सिंह पटेल, नीलकंठ द्विवेदी, वीरेंद्र सिंह, शत्रुघ्न सिंह, नरेश तिवारी, हनुमान प्रसाद पाल, रामप्यारे यादव, रमाकांत शुक्ला, राम लखन सिंह, छत्रपाल सिंह, राजाराम सिंह आदि मौजूद रहे। इसके अलावा समाजसेवी भाजपा नेता इंद्रेश तिवारी मवई कला, इंद्रेश त्रिपाठी बरहा कोटरा के नेतृत्व में भी सैकड़ों ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन में शामिल होकर एसडीएम को मांग पत्र सौपा है।

No comments