Latest News

आयकर सेतु ऐप पर आयकर दाता अपना विवरण देखेंः संतोष

समय से इनकम टैक्स जमा कर देश के विकास से जुड़ेः तिवारी

उरई (जालौन), अजय मिश्रा । करदाता जागरूकता कार्यक्रम के तहत विकास भवन सभागार में जनपद के विभिन्न विभागांे के अधिकारियों की उपस्थित में आयोजित बैठक में आयकर से संबंधित विभिन्न प्रकार की जानकारी दी गयी साथ ही कई समस्याओं का समाधान भी किया गया।

आयकर जागरूकता बैठक में उपस्थित अधिकारी।
इनकम टैक्स के ज्वाइंट कमिश्नर संतोष कुमार, एडीसनल कमिश्नर तनवीर रहमान, असिस्टेंड कमिश्नर विजय सिंह, जनपद के इनकम टैक्स अधिकारी पीके तिवारी ने अधिकारियों से कहा कि वह 26 ए एस फार्म अपटेड कर लंे। उन्होंने इनकम टैक्स अधिनियम की धारा 10 (23) (सी) पर चर्चा करते हुये कहा कि बहुत से लोग एक करोड़ की रसीद लगाकर इसका हवाला देकर छूट का लाभ उठा लेते हैं। लेकिन यह छूट तभी संभव जब कोई भी व्यक्ति या संस्था इनकम टैक्स देती हो। इनकम टैक्स अधिकारियों ने बताया कि जो व्यक्ति किसी भी प्रकार का कोई इनकम टैक्स देता ही नहीं है उसे इस अधिनियम के तहत किसी भी प्रकार का छूट नहीं मिल सकती है। उन्होंने यह भी बताया कि प्रायः सरकारी कर्मचारियों को स्वास्थ्य संबंधी बिल यदि 15 हजार तक के है तो उन पर किसी भी तरह का टैक्स नहीं काटा जा सकता है। लेकिन इस बारे में जानकारी का अभाव होने की वजह से इस तरह के स्वास्थ्य बिलों पर भी इनकम टैक्स काट लिया जाता है। जो पूरी तरह से गलत है। उन्होंने आयकर दाताओं से कहा कि शासन द्वारा आयकर सेतु नाम से एक नया ऐप लांच किया गया है जिसे अपने मोबाइल में अपलोड कर जो व्यक्ति आयकर दाता है वह अपना पूरा डाटा अपने घर पर बैठकर ही देख सकता है। अंत में जिला इनकम टैक्स अधिकारी पीके तिवारी ने सभी करदाताओं से कहा कि वह इनकम टैक्स भरने में उदारता दिखाये ताकि देश को विकास के रास्ते पर इसी तरह से चलते रहने में मदद मिल सके।


No comments