होली के रंगों में सबसे ऊपर दिखा आपसी सौहार्द का रंग - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, March 12, 2020

होली के रंगों में सबसे ऊपर दिखा आपसी सौहार्द का रंग

मजहब नहीं सिखाता आपस मे बैर रखना, हिंदी हैं हम वतन है हिन्दोस्तान हमारा
रंगों, अबीर-गुलाल के साथ फूलों की होली भी खेली गई 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । हिन्दुस्तान की आजादी के लिए जिन लोगों ने अपनी जाने कुर्बान कर दीं। उनके सपनों का भारत कैसा था अगर आपको ये देखना है तो यूपी के जनपद बांदा आइए। यहां आपको आजादी के मतवालों का, सपनों का भारत हकीकत में देखने को मिलेगा। यहां हर पर्व को जिस तरह से सभी धर्मों के लोग आपस में मिलजुल कर
अवस्थी पार्क में होली खेलती महिलाएं
मनाते हैं कि देखने वाले उन्हें देख कर उनके धर्म का अंदाजा नहीं लगा सकते।
ऐसा ही नजारा होली के पर्व में भी देखने को मिल रहा है। मंगलवार की सुबह पूरे देश के साथ-साथ बांदा में भी होली मनाई गई। शहर के अवस्थी पार्क में योग गुरु प्रकाश साहू ने होली खेलने आयोजन किया जिसमें सभी धर्मों, राजनैतिक पार्टियों, व सामाजिक संगठनों के साथ साथ आम लोगों ने भी शिरकत की और हर्षोल्लास के साथ होली खेली। आये हुए सभी लोगों को अबीर गुलाल लगाकर स्वागत किया गया और रंगों के साथ साथ फूलों
एक-दूसरे को गुलाल लगाते लोग
से होली खेली गई। महिलाओं की टोली ने आपस मे सभी महिलाओं को रंग लगाकर गले मिल कर होली की बधाई दी। पुरुषों ने भी एक दूसरे को रंग गुलाल लगाया मिठाई खिलाई और गले मिल के एक दूसरे को बधाई दी। देर तक गीत संगीत में लोग झूमते रहे इस भीड़ में हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई सभी शामिल थे जिससे माहौल में हरे पीले लाल गुलाबी रंगों के ऊपर आपसी सौहार्द का रंग दिखाई दे रहा था। लोग खुले कंठ से इस माहौल की प्रशंसा कर रहे थे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages