Latest News

जनता कर्फ्यू का उल्लंघन करना पड़ा महंगा, आधा दर्जन पर मुकदमा

फतेहपुर, शमशाद खान । कोरोना वायरस को लेकर किये गये जनता कफ्र्यू के दिन ब्रम्हभोज कराना व जलसे के लिए चंदा मांगना आधा दर्जन लोगों को महंगा साबित हो गया। थाना पुलिस ने जनता कफ्र्यू का उल्लंघन करने का विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया। 
पुलिस प्रवक्ता के अनुसार वर्तमान समय में कोरोना वायरस वैश्विक संक्रमणीय बीमारी घोषित की गयी है। जिसके कारण रविवार को जनता कफ्र्यू व धारा 144 सीआरसीपी लागू की गयी थी। उन्होने बताया कि मलवां थाना क्षेत्र के ग्राम कांधी में सुशील द्विवेदी, यादवेन्द्र द्विवेदी पुत्रगण स्व0 कृष्ण कुमार, मंत्री द्विवेदी व शैलेन्द्र कुमार द्विवेदी पुत्रगण राम प्रकाश द्वारा कई गांव के लोगों का सामूहिक रूप से ब्रम्हभोज कार्यक्रम का आयोजन कराया
गया था। जिससे आम जनता में संक्रमणीय बीमारी से संकट उत्पन्न होने की आशंका थी। इसी तरह मलवां थाना क्षेत्र के ग्राम कंुवरपुर में अकरम पुत्र नसीर व कयूम पुत्र नवाब द्वारा यह जानते हुए भी कि इस समय कोरोना वायरस से पूरे विश्व में हाहाकार मचा हुआ है। लोगों के बीच यह कहकर भ्रम फैलाया जा रहा था कि कोरोना वायरस से कोई बीमारी नहीं होती। जलसे के लिए लोगों से चंदा इकट्ठा कर रहे थे। जब इसकी जानकारी थाना पुलिस को हुयी तो अलग-अलग दो टीमों ने दोनों स्थानों पर पहुंचकर सभी छह लोगों को हिरासत में ले लिया और जनता कफ्र्यू का उल्लंघन का आरोपी मानते हुए सभी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। ग्राम कांधी में कार्रवाई करने वाली टीम में उपनिरीक्षक रामू सिंह यादव, कांस्टेबिल हरिशंकर मिश्रा, प्रमोद कुमार व कुंवरपुर गांव में कार्रवाई करने वाली टीम में उपनिरीक्षक राजेश प्रसाद यादव, हेड कांस्टेबिल कृष्णदेव व कांस्टेबिल इमरान अहमद शामिल रहे। 

No comments