Latest News

देश शांत हैं, घर में रहो सुरक्षित ...........

देवेश प्रताप सिंह राठौर 
(वरिष्ठ पत्रकार)

भारत के इतिहास में कभी भी ऐसा नहीं हुआ है इस सब कुछ रुक गया हो आज पूरा भारत इस करो ना जैसे वायरस से परेशान है भारत सरकार द्वारा 3 हफ्ते का लाक डौन कर दिया गया है। आज हर जनमानस संसय से भरी जिंदगी में जी रहा है क्योंकि एक कोरोनावायरस एक ऐसा वायरस है जो परमाणु बम की तरह इसके कण फैलते जाते हैं। चीन विश्व समुदाय से हमेशा अलग-थलग उसकी नियत रही है वह कभी भी किसी का सच्चा साथ ही नहीं बना है। जब वर्ष 1962 में भारत और चाइना का युद्ध हुआ था युद्ध के पहले की स्थिति भारत को कतई एहसास नहीं था कीचीन युद्ध करेगा हिंदी चीनी भाई भाई कहकर के अचानक युद्ध किया और हम उस समय आजादी के बाद इतने मजबूत नहीं थे इसलिए हमें रुकना पड़ा। क्योंकि दिसंबर का चाइना के बुआन शहर से यह निकला जिसने विश्व के अधिकांश देश आज चाइना के दुष्कर्म का परिणाम झेल रहे हैं आज पूरा भारत घर में सिमट गया है क्यों क्योंकि यह कोरोनावायरस इतना बुरा हाल किए इंसान घर से निकलने में सौ बार सोचने को
मजबूर हो रहा है लेकिन आज भी बहुत से लोग बाहर निकल रहे हैं उन्हें समझने की जरूरत है कि देश पर आज एकता अखंडता और संयम रखने की जरूरत है और अधिकतर लोग घरों पर रहे क्योंकि जान है तभी सब कुछ है क्योंकि आज परमाणु बम से अधिक पूरा विश्व आज परेशान है इसे हम सब लोगों को मिलकर सरकार की मदद करनी होगी और उनके बताए हुए नियमों को पालन करना होगा तभी हम विजय पा सकेंगे। वैसे एक बात तो माननी पड़ेगी क्योंकि देश के लोग देर में समझते हैं क्योंकि मैंने 20 दिन पहले लोगों से कहा था कि आप लोग हाथ मत मिलाएं नमस्ते करें परंतु लोग कहते थे पागल हो हाथ मिलाने से कुछ नहीं होता खूब मिला ओ यारा हाथ आज वही लोग घर में दुबके बैठे हैं अब उनकी समझ में आया कि मैं बहुत पहले से कहता था की सरकार की बताई हुई नीतियों पर विश्व की जो स्थित है कोरोना वायरस से उस को समझो और आज समझ में आया परंतु इस देश में मूर्खों की भरमार है क्योंकि आदमी सच्चाई को समझने का प्रयास नहीं करता जिस कारण दिक्कतें परेशानियां बढ़ती है।

No comments