राजस्व मामलों के निस्तारण में न हो लापरवाही: डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, March 21, 2020

राजस्व मामलों के निस्तारण में न हो लापरवाही: डीएम

अनुपस्थित जिला कारागार अधीक्षक से मांगा जवाब तलब
22 मार्च को जनता कफ्र्य में जागरुक करने के दिए निर्देश
लेखपालों की शिकायत पर की जाए कार्यवाही

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में अभियोजन एवं कानून व्यवस्था, कर करेत्तर, राजस्व वसूली आदि विभिन्न बिंदुओं की समीक्षा बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने अवैध खनन, परिवहन, वाणिज्य कर, नगर निकाय, स्टाम्प एवं पंजीयन, लोक निर्माण विभाग, आबकारी, बांट माप, खाद्य एवं औषधि प्रशासन, मण्डी, सिंचाई, बैंक, राजस्व वसूली, विद्युत, चकबंदी, अभियोजन एवं कानून व्यवस्था की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वार्षिक लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत वसूली कराई जाए। उप जिलाधिकारियों से कहा कि राजस्व विभाग के मामले सही तरीके से निस्तारित करें। अन्यथा की दशा में संबंधित तहसीलदार व एसडीएम जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि वसूली पर तेजी लाएं। 31 मार्च तक प्रत्येक दशा में लक्ष्य के प्रति प्रगति होना चाहिए। अवैध कब्जा तत्काल हटाए और जिन तालाबों का अतिक्रमण हटाया गया है उसमें संबंधित खंड विकास अधिकारियों के माध्यम से मनरेगा के कार्य शुरू करा दें। राजस्व वादों में दायरे से अधिक निस्तारण हो। समय अवधि समाप्त होने के बाद अगर
बैठक में निर्देश देते डीएम।
कोई पत्रावली प्राप्त होती है तो संबंधित कर्मचारी के खिलाफ कार्यवाही कराई जाए। बैठक में अधीक्षक जिला कारागार के उपस्थित न होने पर अपर जिलाधिकारी से कहा कि उनसे जवाब तलब किया जाए। उन्होंने कहा कि अवैध खनन व परिवहन पर जिन गाड़ियों का बार-बार चालान किया जाता है उनके खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज कराई जाए। औषधि निरीक्षक को निर्देश दिए कि मास्क व सेनेटाइजर को लेकर मेडिकल स्टोर पर कालाबाजारी की शिकायतें प्राप्त हो रहे हैं। जिनके खिलाफ कार्यवाही कराएं। अपर जिलाधिकारी तथा अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पुलिस बल के साथ कार्यवाही कराएं। 
जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारियों तथा तहसीलदारों को निर्देश दिए कि कोरोना वायरस को लेकर क्षेत्र पर सतर्क रहें। कहीं पर भीड़भाड़ हो उस पर नजर रखें। कोई  गंभीर समस्या हो तो उनके संज्ञान में लाया जाए। जनपद में धारा 144 लागू की गई है। कड़ाई से अनुपालन हो। 22 मार्च को प्रधानमंत्री द्वारा जनता कफर््यू जो लगाया जाना है उसमें लोगों को जागरूक करें तथा कोरोना वायरस से बचाव के बारे में बताएं। क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भ्रमण कर आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था कराएं। सभी धर्म गुरुओं से संपर्क स्थापित करें। मठ मंदिरों के संत महंतों तथा मस्जिदों के लोगों से संपर्क कर उनकी तरफ से भी जनता को संदेश भेजा जाए।
जिलाधिकारी ने कहा कि ओलावृष्टि तथा अतिवृष्टि से हुए नुकसान पर किसानों को हरहाल में लाभ दिलाया जाना है। उन्होंने कहा कि अगर कहीं पर कोई लेखपाल, राजस्व कर्मी की शिकायतें प्राप्त हो तो तहसीलदार तत्काल उस गांव जाकर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही करें और प्रतिदिन की रिपोर्ट अपर जिलाधिकारी को उपलब्ध कराएं कि किस तहसील में किन-किन गांव में कितने किसानों को लाभान्वित कराया गया है। बैठक में अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चैधरी, उप जिलाधिकारी कर्वी अश्वनी कुमार पाण्डेय, मऊ राजबहादुर, राजापुर राहुल कश्यप, मानिकपुर संगमलाल, अपर उप जिलाधिकारी राम प्रकाश, प्रभागीय वन अधिकारी कैलाश प्रकाश, जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी नरेंद्र मोहन मिश्र, मानिकपुर राम आशीष वर्मा सहित संबंधित अधिकारी, शासकीय अधिवक्ता मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages