Latest News

किसानो और युवाओं को अपनी सोच बदलनी होगी - कुशवाहा

हमीरपुर, महेश अवस्थी । ब्रम्हानंद महाविद्यालय राठ के एसोसिएट प्रोफेशर एसएन कुशवाहा ने कहा कि बुन्देलखण्ड में आज पानी पलायन और पर्यावरण की बडी समस्या है। इसी में किसानो की समस्या निहित है। पुरानी कृषि पद्धति और पुरानी सोच को बदलने पर उन्होने जोर दिया। वे राजकीय महाविद्यालय मौदहा में किसानो की समस्या और समाधान विषयक संगोष्ठी में बोल रहे थे। उन्होने कहा कि 70 फीसदी महिलायें खेती
संगोष्ठी में बोलते प्राचार्य डा. भवानीदीन
का काम करती है। जिससे साफ जाहिर है कि घर के 70 फीसदी लोग बाहर रहकर काम करते है। मुख्य अतिथि डा. सतेन्द्र सिंह ने किसानो को और युवाओं को अपनी सेाच बदलने को कहा सपने पालने के वजह मूर्त रूप देने का प्रयास करना चाहिए। महोबा के प्राचार्य सुशील बाबू ने कहा कि यहा के किसानो का विजन स्पष्ट नही है। मानसिक प्रबन्धन की आवश्यकता है। किसान नेता संतोष सिंह ने कहा किसान और युवाओं को सकारात्मक सोंच रखनी होगी। प्राचार्य डा. भवानीदीन ने किसानो और युवाओं से अपने विचारों में परिवर्तन लाने को कहा आयेाजक सचिव डा. चंदन पाण्डेय ने संगोष्ठी की जानकारी दी। प्राचार्य डा. राजकुमार सचिव डा स्नेहलता ने सभी का स्वागत और आभार जताया। भूप सिंह, डा विभोर वर्मा, बलवान, प्रशान्त, अनमोल, अंजलि, डा संतोष पाण्डेय ने सहयोग किया। 

No comments