पोषण मिशन में लाएं तेजी: जिलाधिकारी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, March 16, 2020

पोषण मिशन में लाएं तेजी: जिलाधिकारी

लक्ष्य के अनुरूप बेड खाली रहने पर कटेगा वेतन
पोषण व कनवर्जन समिति की बिन्दुवार की समीक्षा, अनुपस्थित डीसी मनरेगा से जवाब तलब

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पोषण व कनवर्जन्स समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने पोषण पखवाड़ा, सुपोषित गांव, 0 से 5 वर्ष के बच्चों के पोषण स्तर में सुधार, गर्भवती महिलाओं की स्वास्थ्य जांच, नवजात शिशु के स्तनपान, पोषण पुनर्वास केंद्र, जनपद में परियोजना वार लाभार्थियों के सापेक्ष प्राप्ति पोषाहार एवं वितरण, स्कूल न जाने वाली 11 से 14 वर्ष की किशोरियों को नीली आयरन गोलियों का वितरण, स्कूलों में स्वास्थ्य एवं पोषण परामर्श सेवाएं, समुदाय आधारित गतिविधियों के आयोजन, सुपोषण स्वास्थ्य मेले, आंगनबाड़ी केंद्रों पर पेयजल, शौचालय एवं विद्युत, केंद्र भवनों के निर्माण, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा गृह भ्रमण एवं केंद्रों पर पोषण परामर्श की सूचना, वजन मशीनों की उपलब्धता, मेगा कैंप आदि विभिन्न बिंदुओं की विस्तृत समीक्षा की।
बैठक में निर्देश देते डीएम।
जिलाधिकारी ने कहा कि 8 से 22 मार्च तक पोषण पखवाड़ा का आयोजन किया जा रहा है। सभी आंगनवाड़ी कार्यकत्री कोरोना वायरस के बारे में जानकारी अवश्य दें। पोषण पखवाड़ा के दौरान सही तरीके से आयोजन कराएं। उन्होंने कहा कि पिंक कार्ड जिन परिवारों को दिया गया है उन परिवारों की बच्चियों को अतिरिक्त पोषाहार का वितरण किया जाए। आंगनबाड़ी भवनों के जो निर्माण पूर्ण हो गए हैं उन्हें तत्काल हैंडओवर करें। जिला पंचायत राज अधिकारी से कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों पर पेयजल शौचालय का कार्य तत्काल ग्राम पंचायतों से करा दिया जाए। बैठक में डीसी मनरेगा के उपस्थित न होने तथा बाल विकास परियोजना अधिकारी मानिकपुर द्वारा पोषण पुनर्वास केंद्र में बच्चों को निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप भर्ती न कराए जाने पर जवाब तलब करने के निर्देश दिए। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आरके गुप्ता को निर्देश दिए कि बाल विकास परियोजना अधिकारियों को जो पोषण पुनर्वास केंद्र पर बेडो का लक्ष्य निर्धारित किया गया है अगर उनके बेड खाली रहे तो संबंधित सीडीपीओ का जितने दिन बेड खाली रहे उतने दिन का वेतन काटा जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि पिछली बैठकों में बार-बार कहने के बावजूद भी अभी तक सभी केंद्रों पर वजन मशीनों की उपलब्धता नहीं हो पाई है। सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश जारी कर तत्काल वजन मशीनों की व्यवस्था करें। उन्होंने बाल विकास परियोजना अधिकारियों से कहा कि पोषण मिशन के अंतर्गत जिन जिन बिंदुओं पर कार्य किया जाना है उसमें तेजी लाई जाए। कोई समस्या हो तो अवगत कराएं। उसका निराकरण किया जाएगा।
बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, जिला उद्यान अधिकारी रमेश कुमार पाठक, जिला दिव्यांगजन अधिकारी राजेश नायक, अर्थ एवं संख्या अधिकारी राजेश कुमार, बाल विकास परियोजना अधिकारी कर्वी पीडी विश्वकर्मा, पहाड़ी महेंद्र कुमार पटेल, रामनगर वीरेंद्र कुशवाहा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages