Latest News

औरैया से सम्मान के साथ घर लाया गया दरोगा का पार्थिव शरीर

गांव में ही कल  किया जाएगा शव का अंतिम संस्कार 
औरैया में गश्त के दौरान ट्रक की टक्कर लगने से हुई थी मौत 
दरोगा का शव देखते ही फफक कर रो पड़े परिवार के लोग 
शुक्रवार शाम को एसआई और कांस्टेबल लाए पार्थिव शरीर 


बांदा, कृपाशंकर दुबे । औरैया में पूर्वा सुजान चैकी इंचार्ज की सड़क हादसे में मौत हो जाने के बाद पुलिस महकमे में शोक की लहर दौड़ गई। घरवालों को सूचना मिली तो वह फफक कर रो पड़े। शव का पोस्टमार्टम कराए जाने के बाद औरैया पुलिस लाइन में अंतिम सलामी दी गई, इसके बाद एसआई और कांस्टेबल दरोगा का शव लेकर शुक्रवार की शाम को बिसंडा पहुुंचे। शव देखते ही परिवारीजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। इसके बाद पुलिस टीम वापस लौट गई। शनिवार को गांव में ही दरोगा के शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा। 
बिसंडा थाना क्षेत्र के पल्हरी गांव निवासी अशोक पटेल औरैया में पूर्वा सुजान चैकी इंचार्ज के पद पर तैनात थे। उनका परिवार झांसी में रहता हैं गफ3वार की देर रात चैकी इंचार्ज अशोक बाइक से लाकडाउन के दौरान गश्त
मृतक दरोगा अशोक पटेल 
कर रहे थे। टिफिन लेकर आवास जाते समय नुनारी गांव के पास तेज रफ्तार ट्रक ने उन्हें टक्कर मार दी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। खबर पाकर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और दरोगा के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पोस्टमार्टम कराए जाने के बाद पुलिस लाइन औरैया में अंतिम सलामी दी गई। इसके बाद सम्मान के साथ दरोगा का शव शुक्रवार की शाम को औरैया से एक एसआई और चार कांस्टेबल लेकर बिसंडा थाने के पल्हरी गांव पहुंचे। दरोगा का शव देखते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। परिजनों को दरोगा का शव सुपुर्द करने के बाद पुलिस वापस लौट गई। 
मोबाइल पर मृतक दरोगा के इकलौते बेटे अंशू पटेल से बात की गई। अंशू ने बताया कि वह एलएमसीटी यूनिवर्सिटी भोपाल में ग्रेजुएशन कर रहे हैं। उनकी एक बड़ी बहन पूजा है, जिनकी अभी शादी नहीं हुई है। मृतक दरोगा की पत्नी सुनीता समेत परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। अंशू ने बताया कि शनिवार को सुबह गांव में ही पिता के शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा। अंशू ने बताया कि स्थानीय स्तर पर कोई भी अधिकारी नहीं आए हैं। 

No comments