Latest News

दुुकानदार बोले हफ्ते भर का स्टाॅक, बाकी अधिकारी जानें

दूसरे दिन टाइम टेबिल से खुली दुकाने, सख्त रहा पुलिस का पहरा 

उरई(जालौन), अजय मिश्रा । कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लागू किए गए लाॅकडाउन के पूरा होने में भले ही 19 दिन बकाया हो लेकिन किराना दुकानदार केवल हफ्ते भर का स्टाक होने की बात कह रहे है। जिससे आगे आवश्यक वस्तुओं के दाम बढ़ सकते है। लाॅकडाउन के दूसरे दिन हालांकि दूध, सब्जियों एवं
मेडीकल व किराने की दुकान खुली रही तो पुलिस ने की चेकिंग
किराने की दुकाने टाइम टेबिल से खुली। तो बेवजह घूमने वालों की जमकर खबर ली गई। 
  लाॅकडाउन के दूसरे दिन सुबह जहां दूध, सब्जियों की दुकाने खुली रही वहीं किराना की दुकानों पर भी लोगों ने जरूरत का सामान खरीदा। लेकिन बेवजह घूमने वालों की पुलिस ने अच्छी तरह से खबर ली। तमाम किराना
दुकानदारों ने बताया किउनके पास आवश्यक वस्तुओं का हफ्ते भर का स्टाक है। अगर बाहर से आवश्यक वस्तुओं की खेप नही आती तो उन्हें अपनी दुकाने बंद करनी पड़ेगी। क्योंकि पूरे देश में लाॅकडाउन है ऐसे में कहीं से भी सामान की आपूर्ति होने की गुंजाइस नही दिख रही है। लाॅकडाउन के चलते आज भी पुलिस प्रशासन के अधिकारी भ्रमण पर रहे। वहीं जगह-जगह बैठाये गऐ पुलिस फोर्स के पहरे पर आज बेवजह घूमने वालों के या तो चालान काटे गये या फिर जुर्माना वसूला गया। तो कुछ लोगों को पुलिस डंडे भी खाने पड़े। आज दूसरे दिन
लाॅकडाउन का अच्छाखासा असर दिखा। हालांकि ग्रामीण क्षेत्रों में खेत खलिहान काम करने वाले किसानों, मजदूरों को पुलिस के द्वारा प्रताड़ित करने की खबरे आती रही। जबकि किसानों, मजदूरों को खेती किसानी के लिए आने जाने में किसी भी तरह की रोक टोक नही है। मेडीकल स्टोर भी खुले रहे जिससे लोगों को दवा आदि खरीदने में किसी भी तरह की दिक्कत नही हुई। 

No comments