Latest News

जल संरक्षण में बनेंगेे नालो में डोह

हमीरपुर, महेश अवस्थी । बुन्देलखण्ड में वर्षा का पानी तेजी से निकलकर नदियों के जरियें सागर में चला जाता है। जिसके कारण वर्षा जल से जमीन ठीक से सोख नही पाती। इसे रोककर जल संरक्षण के लिए नालो में डोह बनाने का सुझाव प्रगतिशील किसान राजेन्द्र सिंह ने दिया। जल संरक्षण के लिए बनाये जा रहे चेक डेमो में यह पद्धति बेहतर होगी। जिसकी शुरूआत सुमेरपुर विकासखण्ड के ग्राम कुण्डौरा में आठ किलोमीटर लम्बे नाले से
की गयी है। इसके लिए 146 नालो का चिन्हांकन पर हजारो की संख्या में डोह निर्माण कराया जायेगा। वीडीओ विकास कुमार ने बताया कि 10 मीटर लम्बा एक मीटर गहरा और नाले की चैडाई के बराबर गढ्डा खोदा जायेगा। प्रत्येंक नाले में थोडी थोडी दूर पर जब यह गढ्डे तैयार हो जायेगे तब इनसे गुजरने वाला नाले का पानी भरेगा। मनरेगा से यह काम मजदूरो के जरिये कराया जाना है। इससे नाले का पुर्नजीवीकरण होगा। कई स्थानो पर नाले में कागज में दिखायी पड़ रहे है मगर धरातल में वह कहीं नही है।

No comments