ट्यूबवेल के कमरे से बरामद हुआ किसान का शव - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, March 6, 2020

ट्यूबवेल के कमरे से बरामद हुआ किसान का शव

गिरवां थाने के मलेहरा नेवादा का मामला, दुर्गंध आने पर हुआ खुलासा 
पुलिस ने दरवाजे की दीवार तोड़कर बाहर निकाला शव 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । चार दिनों से लापता किसान का शव उसके ट्यूबवेल के कमरे से बरामद हुआ। कमरे से उठ रही दुर्गंध के बाद लोगों को शक हुआ तो पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजे की दीवार तोड़कर किसी तरह से शव को बाहर निकला। शव में सड़न पैदा हो गई थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। 
ट्यूबवेल के बाहर मौजूद पुलिस
ग्राम मलेहरा निवादा गांव निवासी जयप्रकाश उर्फ लाला तिवारी (50) पुत्र नत्थू तिवारी अपने घर से दूर अपने ही खेत मे बने ट्यूबवेल के कमरे में रहता था। पहली मार्च से उसका कुछ पता नहीं था। इस पर मृतक की बहन शांति देवी ने सभी रिश्तेदारों के यहां भी पता करवाया। लेकिन कोई पता नहीं चला जिस पर शुक्रवार लगभग 11 बजे मृतक के बड़े भाई ओमप्रकाश ट्यूबवेल की तरफ आया तो कमरे से दुर्गंध उठ रही थी। मृतक के बड़े भाई ने इसकी सूचना गिरवां थाने में जा कर दी, जिस पर घटनास्थल में गिरवां थानाध्यक्ष शशि कुमार पांडेय फोर्स के
दरवाजे की दीवार को तोड़ता पुलिस कर्मी
साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस क्षेत्राधिकारी नरैनी रोहित यादव और फारेन्सिक टीम व डाग स्क्वायड को बुलाया। इसके बाद ट्यूबवेल के कमरे में सेंडल लाक को तोड़कर देखा तो मृतक के शव में सड़न हो जाने से दुर्गंध उठ रही थी। शव तख्त में पड़ा हुआ था और नीचे रखे तसला (लोहे का बर्तन) में खून भरा हुआ था। वहीं मृतक के बड़े भाई ने बताया कि 29 तारीख को हम लोगों ने पास में ही बाटी चोखा बनाया हुआ था और उस रात्रि के बाद मालूम नहीं चला। मृतक की पत्नी और दो बच्चे इलाहाबाद में रहते हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मौत का कारण अभी तक ज्ञात नहीं हो सका है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages