Latest News

बुंदेलखंड को आपदाग्रस्त घोषित किया जाए: राजेश

कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन 
ओला और बारिश से तहस-नहस हुई फसलों का दिलाया जाए मुआवजा 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । ओलावृष्टि और बारिश से बर्बाद हुई फसल के मुआवाजे को लेकर कांग्रेसियों ने पीड़ित किसानों के साथ कलक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन देकर मंडल मुख्यालय समेत समूचे बुंदेलखंड को आपदा ग्रस्त घोषित कर किसान वसूली पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने और पीड़ित किसानों को पर्याप्त क्षतिपूर्ति दिलाए जाने की मांग की।
जिलाधिकारी को ज्ञापन देने आए कांग्रेसी 
कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश दीक्षित की अगुवाई में शनिवार को कांग्रेसियों ने पीड़ित किसानों के साथ कलक्ट्रेट में जोरदार प्रदर्शन किया। ओला और बारिश से बर्बाद हुई फसल के मुआवजे को लेकर देर तक नारेबाजी की। बाद में प्रशासन के माध्यम से राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपा। इसमें कहा है कि ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से मंडल मुख्यालय समेत समूचे बुंदेलखंड में फसलों को भारी नुकसान हुआ है। खेतों में खड़ी फसल ओलावृष्टि और बारिश से बर्बाद हो गई। यहां का किसान पहले से ही दैवीय आपदा से जूझ रहा है। पूर्व में दैवीय आपदा से परेशान होकर सैकड़ों किसान आत्महत्या कर चुके हैं। अब ओला और बेमौसम बारिश ने किसानों की कमर तोड़ दी है। यहां का किसान बैंक और साहूकारों के कर्ज के बोझ तले दबा है। ऐसे में किसानों की मुसीबतें और बढ़ गई हैं। मांग की कि ओला और बारिश से बर्बाद हुई फसलों का आंकलन करके किसानों को पर्याप्त मुआवजा दिलाया जाए। साथ ही मंडल मुख्यालय समेत समूचे बुंदेलखंड को आपदाग्रस्त घोषित कर सरकार सभी प्रकार की वसूलियों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाए। ज्ञापन देने वालों में महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष सीमा खान, कुतैबा जमां खां, सैय्यद अत्लमश हुसैन, शिवबली सिंह, धीरेंद्र पटेल, छेदीलाल धुरिया, पिप्पी चैरसिया, इरफान खां, कल्लू वर्मा, सुखदेव गांधी, संतोष कुमार द्विवेदी, हरिश्चंद्र वाजपेयी, कासिम, शब्बीर सौदागर, बशीर समेत तमाम किसान शामिल रहे।

No comments