Latest News

मास्क, सेनेटाइजर के कालाबाजारी बखशे नहीं जाएंगे

डीएम की अधिकारियों को हिदायत

बिजनौर, (संजय सक्सेना)  जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने कहा कि कोरोना वायरस चीन से प्रारम्भ होकर आज पूरे विश्व के लिए चिन्ता का विषय बना हुआ है। प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना को एक महामारी घोषित कर दिया गया है और इस के लिए सरकार द्वारा विभिन्न कदम उठाये जा रहे हैं। यह एक फ्लू जैसी बीमारी है, जिसके लक्षण खाॅसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ है।
जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय कलक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस से सम्बन्धित बैठक में उपस्थित  अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में जो भी व्यक्ति कोरोना वायरस से प्रभावित देश से लौटा है और अपने आप को खासी, बुखार आदि रोगों से प्रभावित महसूस कर रहा है तो उपचार के लिए तत्काल नजदीकी राजकीय चिकित्सालय में सम्पर्क करे। कोरोना टेस्ट करवाने के स्थान की
जानकारी के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार के हेल्प लाईन नं0 91-11-23978046 पर काॅल करें या अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर सम्पर्क करे। मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि जिला अस्पताल के अलावा समस्त सीएचसी एवं पीएचसी अस्पतालों में कोरोना संदिग्ध मरीजों के रख-रखाव के लिए सारी व्यवस्थाएं तथा आवश्यक दवाएं उपलब्ध करा दी जाये, ताकि समय पडने पर उनका सही से इस्तेमाल किया जा सके। जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में अभी तक कोई भी व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं पाया गया है, इस वायरस से सावधानी ही बचाव है। उन्होंने सभी कार्यालयाध्यक्षों को निर्देश देते हुए कहा कि जो भी जनसामान्य उनके सम्पर्क में हो उन्हें भी इसके बारे में जागरूक करे और अपने-अपने कार्यालयों में साफ-सफाई का स्तर और अच्छा करे।  उन्होंने कहा कि जनपद में जो भी व्यक्ति दूसरे देश की यात्रा करके आया है, उस पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा निगरानी रखी जा रही है और आए हुए हर व्यक्ति का टेस्ट भी समय से कर लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनपद में अगर कोई भी व्यक्ति/दुकानदार मास्क तथा सेनेटाइजर की जमाखोरी करता पकडा जाता है, तो उसे दण्ड दिये जाने का प्रावाधान भी सरकार द्वारा किया जा चुका है, ताकि मास्क आदि प्रयोगी वस्तुओं की जमाखोरी न हो सके। कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जनपद प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है तथा जन सामान्य को भी उसके प्रति जागरूक किया जा रहा है, ताकि जनपद में इस बीमारी से कोई भी परेशानी का सामना न करने पडे। 
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन विनोद कुमार गौड, मुख्य चिकित्साधिकारी विजय कुमार यादव, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक, परियोजना निदेशक डीआरडीए, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी तथा समस्त एमओआईसी सहित संबंधित विभागीय अधिकारी मौजूद रहे। 

No comments