Latest News

आत्मा और परमात्मा से मिलन ही है होली

फिरोजाबाद, विकास पालीवाल  ।  प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के मुख्य सेंटर ज्योति भवन में  फूलों की होली बड़े हर्ष उल्लास और  उमंग से मनाई गई ।  राधा रानी के आकर्षक परिधानों में सजे स्वरूपों  ने सबका मन मोह लिया । राधा और रानी के साथ ही सेंटर की संचालिका  सरिता दीदी सहित अन्य  ने  आकर्षक रुप से सजे थालों में रखे फूलों से होली खेली। केंद्र की संचालिका बीके  सरिता  ने कहा कि 
कोई भी उत्सव हमारे उमंग और उत्साह की निशानी है। जब सभी आत्माएं परमात्मा के रंग में रंग जाती हैं तब आत्मा और परमात्मा के मिलन की होली मनती है।उन्होंने होली शब्द के तीन अर्थों को आध्यात्मिक रीति से बताते हुए कहा कि जो बात हो गई वह ‘हो ली’ है। 
      निशा धाकरे  ने कहा कि होली जीवन के लिए रंगों का त्योहार है लेकिन फिर रंगों से बचना है। प्राचार्या शोभा गुप्ता ने सभी को होली की शुभकामनाये दी । इस कार्यक्रम में प्रधानाचार्य अमर प्रताप सिंह, सी.ए. राकेश गोयल, आचार्य ध्रुव कुमार, डॉ. रामसनेही  गुप्ता, डॉ. हरिओम शर्मा, अंजना अग्रवाल, छाया गोयल, आशा गुप्ता, खुशी बहन, सपना बहन, नूतन, वन्दना, रामनाथ भाई, सी.ए. सुमित आदि मौजूद  थे।

No comments