Latest News

ठहरे लोगों की लगातार कराते रहे परीक्षण

डीएम ने दो सौ शैया अस्पताल में व्यवस्थाएं करने के दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस के रोकथाम एवं बचाव के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों से कहा कि जो जनपद के लोग बाहर से आ रहे हैं उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराकर जहां पर ठहरने की व्यवस्था कराई गई है उसमें शासन के निर्देश के अनुसार विद्युत, पानी, शौचालय, सफाई, सुरक्षा, भोजन, चिकित्सा व्यवस्था, सोशल डिस्टेंसिंग, साबुन, मास्क, सैनिटाइजर, बिस्तर आदि सभी सुविधाएं उपलब्ध रहे। मोबाइल शौचालय या अस्थाई शौचालय की व्यवस्था करें। जिला विद्यालय निरीक्षक से कहा कि आवासीय विद्यालयों की सूची तत्काल मुख्य विकास अधिकारी को उपलब्ध कराकर वहां पर जो कमियां हो उन्हें तत्काल दुरुस्त कराएं। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि सभी चेक प्वाइंट पर चिकित्सा टीम उपस्थित रहकर चेक करती और सभी चिकित्सालय में दवाएं उपलब्ध रहें। कहा कि तहसीलों के अंतर्गत जिन विद्यालयों में बाहर से आने वाले जनपद के लोगों को ठहराया गया है उनका भी लगातार परीक्षण कराते रहे। गांव का भी सर्वे आशाओ से कराकर सूचना उपलब्ध कराएं। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि जो जिला अस्पताल पर मरीज आ रहे हैं उनका अच्छी तरह से परीक्षण कराएं तथा सभी सुविधाएं
बैठक में निर्देश देते डीेएम।
उपलब्ध रहें। किट की उपलब्धता के लिए शासन को पत्र भेजा जाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि 200 सैया अस्पताल पर भी सभी व्यवस्थाएं कर लें और दूरदराज की प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खुले रहे। जिला पूर्ति अधिकारी तथा अधिशासी अधिकारीयों से कहा कि होम डिलीवरी लगातार चलती रहे। उप जिलाधिकारी आवश्यक वस्तुओं की चेकिंग भी करें। पूरी टीम के साथ गांव गांव जाकर निरीक्षण कर रिपोर्ट अपर जिला अधिकारी को उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि खाद्यान्न वितरण में जो नोडल अधिकारी लगाए गए हैं वह सब पश्चात गांव में उपस्थिति दर्ज कराकर वितरण कराएं। कहीं से कोई समस्या प्राप्त होती है तो कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी। अपने अपने क्षेत्र में उप जिलाधिकारी भी चेकिंग करते रहें तथा जो गांव से फोन खाना पानी के लिए आए तो उसका तत्काल निराकरण कराएं तथा कंट्रोल रूम में जो शिकायतें आ रही हैं उनका सभी संबंधित विभाग अविलंब निस्तारण कराएं तथा अन्य राज्यों से जो लोग आए हैं उनकी भी सूचना उपलब्ध कराएं। अपर पुलिस अधीक्षक से कहा कि विधिक कार्यवाही को बढ़ाएं। कोई भी बिना पास के व्यक्ति सड़कों पर नहीं घूमना चाहिए। इसका विशेष ध्यान दें उन्होंने खंड विकास अधिकारियों से कहा कि जो गांव का भ्रमण किया जा रहा है। बाहर से आए नए व्यक्तियों आइसोलेट हो रहे हैं कि नहीं, रजिस्टर बना है कि नहीं इसकी रिपोर्ट आशाओं के माध्यम से दें। उन्होंने कहा कि गौशाला संचालन पर कोई असुविधा न हो। अभी से ही लग कर अतिरिक्त रूप से भूसा की व्यवस्था करा लें। गांव में भ्रमण के दौरान प्रधान व सचिव अवश्य मौजूद रहे और आशाओं को बताएं कि होम आइसोलेट के स्टीकर घरों में अवश्य चस्पा कर दें। उन्होंने कहा कि जिन अधिकारियों को जो दायित्व दिए गए हैं उनका निर्वहन करें। कहीं पर कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चैधरी, उप जिलाधिकारी, खण्ंड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments