Latest News

जनता कर्फ्यू: पीएम मोदी की अपील के बाद सड़कों पर पसरा सन्नाटा, घरों में कैद हुए लोग, लाइव अपडेट

कानपुर सहित आसपास के 13 जिलों में रविवार को सुबह से ही सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ नजर आया। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक भारत की जनता से कर्फ्यू लगाने की अपील की थी। 
कानपुर गौरव शुक्ला:- जिसके बाद रविवार सुबह 7 बजे से लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया। इक्का-दुक्का लोग ही सड़कों पर नजर आए। कानपुर समेत 13 जिलों फतेहपुर, चित्रकूट, हरदोई, कन्नौज, इटावा, महोबा, जालौन, फर्रुखाबाद, उन्नाव, हमीरपुर, उरई, बांदा आदि जिलों में सड़कों पर पूरी तरीके से सन्नाटा पसरा नजर आया।
बताते चलें भारत में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। देश में अब तक 271 लोग इस वायरस से संक्रमित पाए गए है। वहीं इस जानलेवा वायरस से चार लोगों की मौत हो चुकी है। देश में आज कोरोना के 35 नए मामले सामने आए हैं।
कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देश के विभिन्न शहरों में लॉक डाउन किया जा रहा है। सुबह 5:00 बजे से गुलजार होने वाले मोतीझील में भी सन्नाटा पसरा हुआ है। एक भी मॉर्निंग वॉकर फल और चने वाले कोई भी नहीं मौजूद है।
सुबह से ही जेके मंदिर बंद है। गेट पर मौजूद सिक्योरिटी गार्ड रामशंकर अवस्थी ने बताया कि सुबह तक जो भी आ रहा था उसको वापस कर दे रहे थे। जनता कर्फ्यू लगा हुआ इसलिए मंदिर का गेट नहीं खोला गया है।
कानपुर में रामादेवी चौराहे पर सन्नाटा पसरा रहा। कल्याणपुर के सत्यम बिहार की सड़कों पर सन्नाटा दिखा लोगों ने खुद को घर में बंद किया। हरदोई जिले के सबसे व्यस्ततम मार्ग सिनेमा रोड पर सन्नाटा दिखा।
हरदोई में जनता कर्फ्यू के दौरान एसडीएम सदर राकेश कुमार और सीओ सिटी विजय राणा शहर का जायजा लेने निकले। रेलवे स्टेशन पर ट्रेनें आईं लेकिन स्टेशन पर आने वालों की संख्या बहुत कम रही।

कानपुर में जनता कर्फ्यू के चलते आईआईटी में भी आवागमन बंद रहा। गोवा गार्डन के पास मेट्रो का काम भी बंद कर दिया गया। कल्याणपुर स्टेशन में जनता कर्फ्यू के तहत सन्नाटा पसरा दिखाई दिया।बिठूर के ब्रह्मावर्त घाट पर भी सन्नाटा दिखाई दिया।

छत्रपति शाहूजी महाराज यूनिवर्सिटी में जनता कर्फ्यू के तहत सन्नाटा पसरा रहा। चकेरी क्षेत्र में भी लोग घरों में कैद रहे। यहां सड़के पूरी तरह से खाली दिखाई दीं। इस बीच कुछ बच्चे छत पर पतंग उड़ाते दिखाई दिए। बिरहाना रोड भी खाली दिखाई दी। यशोदा नगर बाईपास पर भी सन्नाटा रहा। फूलबाग गेट पर ही सन्नाटा दिखाई दिया।

बांदा जिले में सड़कों पर लोगों को देख एएसपी ने घरों में जाने के लिए अनाउंसमेंट किया। वहीं इटावा का ऊसराहार कस्बे में सड़को पर सन्नाट पसरा दिखाई दिया। इटावा जिले का दूसरा बड़ा नगर जशवंतनगर भी बन्द रहा। जशवंतनगर शिवपाल सिंह यादव का चुनाव क्षेत्र है।

बांदा जिले में सभी मंदिर बंद रहे। प्रमुख माहेश्वरी देवी मंदिर में ताला बंद देख एक श्रद्धालु बाहर से हाथ जोड़ घर के लिए चला गया। बांदा जिले में जनता कर्फ्यू का जोरदार ढंग से समर्थन किया गया। शहर का प्रमुख बाजार भी बंद रहा।

फर्रुखाबाद बस स्टेशन पर सन्नाटा पसरा रहा। बांदा बस स्टैंड पर भी यात्रियों की संख्या शून्य रही। वहीं जालौन जिले में रेलवे स्टेशन पर अधिकारी कोरोना की जांच करते दिखाई दिए।

बस स्टैंड पर पुलिस यात्रिओं को घरों तक पहुंचाने के इंतजाम करते दिखाई दी। वहीं जालौन में नगर पंचायत के सफाई कर्मचारी ग्लव्स व मास्क लगाकर सफाई करने को तैयार दिखे।

कन्नौज जिले में एसडीएम समेत पुलिसकर्मी चौराहों पर तैनात नजर आए। वहीं नदसिया में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर पसरा सन्नाटा दिखाई दिया। कन्नौज में महाराष्ट्र से लौटे पांच लोगों को ग्रामीणों ने गांव में घुसने नहीं दिया।
ग्रामीणों ने पुलिस बुलाकर सभी को परीक्षण हेतु मेडिकल कॉलेज भिजवाया। वहीं इटावा जिले में कर्फ्यू के चलते वाहन रहे। ट्रेन से लौटे बसरेहर के लोगों को रिक्सा से इटावा शहर से बसरेहर तक आना पड़ा

No comments