Latest News

कानपुर लॉकडाउन: कोरोना से जंग में आगे आए समाजसेवी

कोरोना वायरस की आपदा से निपटने के लिए समाजसेवी भी मदद को हाथ बढ़ा रहे हैं। कानपुर के जाजमऊ क्षेत्र में समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश सचिव व समाजसेवी महफूज अख्तर ने गुरुवार सुबह गरीबों में आठ टन गेहूं और चावल वितरित किया।
कानपुर आमजा भारत संवाददाता:- गेहूं और चावल बंटता देख लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी तो सभी से आह्वान किया गया कि आपस में उचित दूरी बनाए रखें। साथ ही मास्क लगाए रहें। समाजसेवी महफूज अख्तर की जाजमऊ में ही लेदर की फैक्ट्री है। उन्होंने बताया कि बुधवार को भी बाबूपुरवा क्षेत्र में छह कुंतल गेहूं-चावल वितरित किया गया था। कहा कि शहर में लॉकडाउन तक अनाज वितरण का कार्य जारी रखेंगे।
वहीं बिठूर स्थित मां बगलामुखी पीताम्बरा मंदिर में भी भोजन वितरण किया जा रहा है। लॉकडाउन के समय को ध्यान में रखते हुए मंदिर की प्रबंध समिति ने निर्णय लिया है कि माई की रसोई सुबह 10 से 11 बजे तक खुलेगी और लोगों में भोजन वितरण किया जाएगा। डॉ. सुनील शिवमंगल पाण्डेय ने कहा लॉकडाउन के चलते जिन्हें भी भोजन की समस्या है वह मंदिर आकर माई की रसोई से भोजन ग्रहण कर सकते हैं। कोरोना वायरस के चलते आने वाले लोगों को सबसे पहले 20 सेकेण्ड तक सैनिटाइजर से अच्छी तरह हाथ धुलवाया जाता है इसके बाद उन्हें भोजन दिया जाता है। आने वाले लोगों को कोरोना के प्रति जागरुक भी किया जाता है। लोगों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में भी बताया जा रहा है।
मजदूरों को बांटे फल और राशन
बर्रा इंस्पेक्टर रणजीत राय ने बुधवार को क्षेत्र के गरीब मजदूरों आदि को फल वितरित किये। कुछ को सब्जियां भी खरीदकर दीं। उधर सीसामऊ सीओ त्रिपुरारी पांडेय ने अपने सर्किल यानी तीन थाना क्षेत्रों में राशन, सब्जी और दूध वितरित किया। साथ ही उन्होंने फूड के पैकेट भी बंटवाएं। उन्होंने बताया कि जितना संभव होगा वह इस तरह से हर रोज लोगों की मदद करते रहेंगे।
पुलिस हर संभव मदद करने में लगी है। कोई भी व्यक्ति अगर किसी समस्या से परेशान है तो 112 नंबर पर कॉल कर सकता है। वहीं अन्य जो प्रशासन स्तर पर जो कंट्रोल रूम के नंबर जारी किये गए उन पर भी संपर्क किया जा सकता है। - मोहित अग्रवाल, आईजी

No comments