Latest News

ट्रेने रद्द होने से स्टेशन हुआ लाक

मालगाड़ियों की सुनाई दे रही गड़गड़ाहट
  
फतेहपुर, शमशाद खान । कोरोना वायरस को रोकने के लिए केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा तमाम प्रयास किये जा रहे हैं। इसी दिशा में रेलवे मंत्रालय द्वारा अभूतपूर्व निर्णय लेते हुए सभी ट्रेनों को 31 मार्च तक बंद करने का निर्णय लिया गया है। इस निर्णय के तहत अधिकतर ट्रेने बंद हो गयी हैं। रेलवे स्टेशन का गेट बंद कर लाक कर दिया गया है। स्टेशन परिसर में कोई भी व्यक्ति नजर नहीं आया। बाकायदा गेट के समीप रस्सी भी बांध दी गयी है। स्टेशन में अब सिर्फ मालगाड़ी की गड़गड़ाहट ही सुनाई दे रही है। 
स्टेशन परिसर के मेन गेट में पड़ा ताला।
कोरोना वायरस के खिलाफ देश में शुरू की गयी जंग अपनी रफ्तार पकड़ रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आहवान पर समूचे देश में एक दिन का जनता कफ्र्यू कराया गया। इसके बाद प्रदेश सरकार ने बैठक करते हुए अहम निर्णय लिया और प्रदेश के 15 जनपदों को लाक डाउन की सूची में डाल दिया। इतना ही नहीं लोगों से बराबर अपील की जा रही है कि अपने-अपने घरों पर आइसोलेशन में रहें। जरूरी काम होने पर ही बाहर आयें। उधर रेलवे मंत्रालय द्वारा भी अभूतपूर्व निर्णय लेते हुए 22 मार्च की अर्द्धरात्रि से देश की सभी ट्रेनों का संचालन 31 मार्च की अर्द्धरात्रि तक बंद करने का निर्णय लिया गया। जिसका असर सोमवार को स्टेशनों पर साफ दिखाई दिया। स्टेशन परिसर में रविवार को जहां यदा-कदा ही यात्री नजर आ रहे थे। वहीं आज एक भी यात्री स्टेशन के आस-पास नहीं दिखाई दिया। स्टेशन अधीक्षक के निर्देश पर प्लेटफार्म नं0 1 का गेट बंद करके ताला लगा दिया गया। इतना ही नहीं अन्य गेटों पर रस्सी भी बांध दी गयी है। जिससे कोई व्यक्ति स्टेशन मे ंप्रवेश न कर सके। इसके अलावा टिकट काउंटर सहित रिजर्वेशन काउंटर में भी ताले लगा दिये गये हैं। स्टेशन परिसर पूरी तरह से सुनसान पड़ा हुआ है। सिर्फ मालगाड़ियों का संचालन होने से गड़गड़ाहट की आवाज सुनाई दे रही है। इस बाबत लोगों का कहना रहा कि रेलवे मंत्रालय द्वारा यह अहम निर्णय लिया गया है। ट्रेनों का संचालन बंद होने से कोरोना वायरस को तोड़ने मे काफी हद तक कामयाबी मिलेगी। जिला प्रशासन द्वारा भी लगातार लोगों का आहवान किया जा रहा है कि साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें। बाहरी देशों व प्रदेशों से आने वाले लोगों की जानकारी उपलब्ध करायी जाये। जिससे उन सभी का डाक्टरी परीक्षण कराकर दूसरे लोगों को सुरक्षित रखा जा सके। 

No comments