Latest News

पुलिस की कार्यशैली से नाराज पत्रकारों ने कोतवाली में दिया धरना

पीएसी के सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग
सीओ बोले मुकदमा दर्ज कर की जायेगी कार्रवाई
  
फतेहपुर, शमशाद खान । टीवी चैनल के स्थानीय पत्रकार के साथ पीएसी गैस एजेन्सी में सिपाही द्वारा की गयी अभद्रता व मारपीट के मामले में पत्रकारों द्वारा दी गयी तहरीर पर पुलिस द्वारा अब तक कार्रवाई न किये जाने से आक्रोशित पत्रकारों ने सोमवार को कोतवाली परिसर में धरना दिया। धरने की जानकारी होने पर कोतवाल ने आक्रोशित पत्रकारों को शांत कराने का प्रयास किया। लेकिन पत्रकार आरोपी पीएसी सिपाही पर मुकदमा दर्ज कराने की जिद पर अड़े रहे। जिस पर पुलिस उपाधीक्षक नगर केडी मिश्रा ने आरोपी सिपाही पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई किये जाने का आश्वासन दिया। जिस पर पत्रकारों ने अपना धरना समाप्त कर दिया।
बताते चलें कि तीन दिन पूर्व टीवी चैनल के स्थानीय पत्रकार धीरेन्द्र सिंह राणा गैस लेने के लिए पीएसी स्थित गैस एजेन्सी गये थे। जहां किसी बात को लेकर उनका विवाद पीएसी के एक सिपाही से हो गया। वर्दी के रौब में सिपाही ने पत्रकार के साथ जमकर अभद्रता की। विवाद बढ़ने पर मारपीट भी हो गयी। इस मामले को लेकर स्थानीय पत्रकारों ने कोतवाली में आरोपी सिपाही के खिलाफ तहरीर दी थी। तीन दिन का समय बीत जाने के
कोतवाल से वार्ता करते आक्रोशित पत्रकार।
बावजूद कोतवाली पुलिस द्वारा सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई न किये जाने से आहत होकर पत्रकार सोमवार को कोतवाली पहुंच गये और मुकदमा दर्ज करने की मांग उठाने लगे। कोतवाली में मौजूद कोतवाल द्वारा मुकदमा न लिखे जाने की बात कही गयी। पत्रकारों से कहा गया कि वह लोग इस मामले को लेकर पीएसी सेनानायक से जाकर मिलें और मामले से अवगत करायें। उन्हीं के आदेश पर मुकदमा दर्ज किया जायेगा। इस पर पत्रकारों का गुस्सा फूट पड़ा और सभी परिसर में ही धरने पर बैठ गये। जब इसकी जानकारी फतेहपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष नागेन्द्र प्रताप सिंह के अलावा अन्य पदाधिकारियों को हुयी तो सभी कोतवाली पहुंच गये और साथी पत्रकारों के धरने में शामिल हो गये। फतेहपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष समेत अन्य पदाधिकारियों के धरने में शामिल होने से कोतवाली पुलिस के हाथ-पांव फूल गये। कोतवाल ने तत्काल इसकी जानकारी पुलिस उपाधीक्षक नगर केडी मिश्रा को फोन पर दी। जिस पर सीओ सिटी तत्काल मौके पर आये और प्रेस क्लब के पदाधिकारियों से वार्ता की। मांग सुनने के बाद सीओ सिटी का कहना रहा कि आरोपी सिपाही को गैस एजेन्सी से हटा दिया गया है। शीघ्र ही उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जायेगी। इसके बाद आक्रोशित पत्रकारों का गुस्सा शांत हुआ और उन्होने धरना समाप्त कर दिया। इस मौके पर महेश सिंह, प्रमोद श्रीवास्तव, वीरेन्द्र सिंह भदौरिया, मो0 इसरार, डा0 इलियास, मो0 महताब, अमन, अनिल श्रीवास्तव, हरीश शुक्ला, मलय पाण्डेय, इरफान चमन, उसमान खां, रवि कश्यप, आजम, श्यामू गोस्वामी, नरेन्द्र श्रीवास्तव, विक्टर राबर्ट, सुनील गुप्ता, अजहर उद्दीन, रिजवान उद्दीन, जर्रेयाब खान, शोएब खान सहित तमाम पत्रकार साथी मौजूद रहे। 

No comments