Latest News

समीक्षा बैठक में राज्यमंत्री ने कसे पेंच, लापरवाही बर्दाश्त नहीं

बैठक में गैरहाजिर एक्सईएन से जवाब तलब, एक दिन का वेतन काटने के निर्देश 
समीक्षा बैठक के दौरान गौवंशों के संरक्षण और चारा-भूसा की जानकारी हासिल की 
राशन वितरण ई-पाश मशीन के जरिए ही कराया जाए, औचक निरीक्षण कर परखें सफाई की गुणवत्ता 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । कानून व्यवस्था, शासन की प्राथमिकता एवं विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक राज्यमंत्री कृषि, कृृषि शिक्षा एवं कृषि अनुसंधान व जनपद के प्रभारी मंत्री लाखन सिंह राजपूत की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में अनुपस्थित एक्सईएन आरईएस मोहम्मद शमीम को स्पष्टीकरण के साथ एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। निराश्रित गौवंश एवं गौ आश्रय स्थल के निर्माण की समीक्षा करते हुए मंत्री मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी से जानकारी प्राप्त की। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी के द्वारा बताया गया कि 128 निराश्रित गौवंश हैं और 32455 गौवंश संरक्षित हैं और 99 गौवंशो की आकस्मिक मृत्यु हुई है। मंत्री ने कहा कि चारे और भूसे के भण्डारण की समुचित व्यवस्था की जाए जिससे भूख और प्यास के कारण गौवंशों की मृत्यु न हो। उन्होंने जनपद में बने तीन कान्हा गौशालाओं की स्थिति जानी, जिसमें बताया गया कि इन गौशालाओं में 931 गौवंश संरक्षित हैं। 
समीक्षा बैठक के दौरान राज्यमंत्री लाखन सिंह राजपूत
आयुष्मान भारत योजना की प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि निःशुल्क कैम्प लगाकर लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाये जायें और उन कैम्पों का शुभारम्भ जनप्रतिनिधियों के द्वारा कराया जाए। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में राशन कार्डों में आधार सीडिंग की प्रगति की जानकारी लेते हुए डीएम से कहा कि राशन कार्ड वितरण में विधायक तिन्दवारी के द्वारा शिकायत की गयी है कि प्रधानों से सांठ-गांठ कर कोटेदार आपात्र व्यक्ति को राशन दिया जाता हैं जो कि ऐसा नही होना चाहिए। ई-पास मशीनों के माध्यम से राशन वितरण किया जाए। खाद्य एवं रसद की समीक्षा करने के दौरान मंत्री ने धान खरीद केन्द्रों की जानकारी प्राप्त की, जिसमें डिप्टी आरएमओ द्वारा बताया गया कि जनपद में 56 खरीद सेन्टर बनाये गए थे और उनमें से 21 जनवरी 2020 को 37 सेन्टर बन्द कर दिये गए अवशेष संचालित हैं। मंत्री ने निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों को किसी प्रकार की कोई समस्या नही होनी चाहिए क्योंकि यही हमारे अन्नदाता होतें हैं। मंत्री ने पंचायतीराज की समीक्षा करते हुए कहा कि सफाई कर्मी प्रत्येक गांव में तैनात होना चाहिए। रोस्टर के अनुसार गलियों और नालियों की सफाई कराई जाए। इसके साथ ही प्राथमिक विद्यालय, उच्च प्राथमिक विद्यालय, आॅगनवाडी केन्द्रों व पंचायत भवनों में भी सफाई करायी जाए। प्रत्येक सप्ताह निरीक्षण कर सफाई की गुणवत्ता परखी जाए। मंत्री जी ने स्वच्छ भारत मिशन नगरीय के अन्तर्गत सामुदायिक एवं सार्वजनिक निर्माणाधीन शौचालयों की प्रगति की जानकारी प्राप्त कि जिसमें अधिशासी अधिकारी नगरपालिका द्वारा बताया गया कि 32 सामुदायिक शौचालय निर्माणाधीन हैं जिनका कार्य अगले माह तक पूर्ण कर लिया जायेगा। प्राधनमंत्री आवास योजना ग्रामीण की समीक्षा करते हुए कहा कि इस वर्ष 8800 लक्ष्य के सापेक्ष कितने आवासों
मौजूद अधिकारीगण 
का निर्माण कार्य पूर्ण कराया जा चुका है जिसमें से बताया गया कि 3000 आवासों का कार्य पूर्ण कराया जा चुका है। मंत्री ने कहा कि जो अवशेष हैं उनका कार्य प्राथमिकता के साथ पूर्ण कराया जाए। इसी तरह प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी की समीक्षा करते हुए जानकारी प्राप्त की तो बताया गया कि 4400 आवासों का कार्य पूर्ण करा लिया गया है। मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण की समीक्षा के दौरान बताया गया कि 112 लक्ष्य के सापेक्ष 45 आवासों का कार्य पूर्ण करा लिया गया है। 
भाजपा जिलाध्यक्ष रामकेश निषाद ने राष्ट्रीय ग्रामीण पाइप पेयजल योजना की समीक्षा के दौरान कहा कि सांडी पेयजल योजना तथा गुढा कला पेयजल योजना कब तक संचालित की जा रही है, तो अधिशासी अभियंता जल निगम के द्वारा बताया गया कि होली के पहले ही सांडी पेयजल योजना का शुभारम्भ किया जायेगा और मई तक गुढा कला पेयजल योजना का कार्य पूर्ण कर क्षेत्र वासियों को पेयजल आपूर्ति की जायेगी। विधायक तिन्दवारी बृजेश प्रजापति ने तहसील सदर के ग्राम जारी का एक मामला बताया जो कि उस गांव में एक तालाब 15 फिट गहरा खोद दिया गया है, प्रधान और सेकेट्री मिलकर मिट्टी बेंच लिए हैं इनके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाए। बैठक में उपस्थित विधायक सदर प्रकाश द्विवेदी, जिलाधिकारी अमित सिंह बंसल, अपर जिलाधिकरी वि0/रा0 संतोष बहादुर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चन्द्र वर्मा, परियोजना निदेशक पीडी आरपी मिश्रा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संतोष कुमार, कार्यक्रम के संचालन कर्ता अर्थ एवं संख्याधिकारी संजीव सिंह बघेल, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय यादव, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी हरिश्चन्द्र नाथ, डिप्टी कलेक्टर जेपी यादव, उप जिलाधिकारी सदर, तीनों डिवीजन के अधिशासी अभियंता दूधनाथ यादव, सुमंत कुमार, रामआसरे दोहरे सहित जनप्रतिनिधिगण एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

अवैध खनन व ओवरलोडिंग पर कंट्रोल करें एसपी: राज्यमंत्री 
बांदा। कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए राज्यमंत्री ने पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा को निर्देशित करते हुए कहा कि अवैध खनन पर कन्ट्रोल किया जाए। ओवर लोडिंग की गहनता से जांच कराई जाए। केन्द्रित थानों के इंचार्जों को माह वार बदल दिया जाए तभी सफलता प्राप्त हो सकेगी। बडे वाहनों की इंट्री टाइम निर्धारित किया जाए। क्योंकि इससे आवागमन बाधित होता है। टैªफिक जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि बड़े अपराधियों के खिलाफ गवाहों के लिए सुरक्षा व्यवस्था की जाए क्योंकि डर की वजह से सही निर्णय नही हो पाता है। उन्होंने कहा कि गुण्डा एक्ट जो लगाते हैं उनका एक मानक होता है और ऐसे लोंगो का जिला बदर होना चाहिए, एन0सी0आर0 वालों का नही इस बात का विशेष ध्यान दिया जाए।  

No comments