Latest News

कोरोना की दहशत, प्रमुख मार्गो में सन्नाटा, बाजार बंदी अभी से

हमीरपुर, महेश अवस्थी । कोरोना का असर जनता कफ्र्यू के 24 घंटे पहले से दिखायी पडने लगा, रोडवेज की बसे जहां खाली आ रही है, वहीं नगर के प्रमुख मार्गाे के किनारे के व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद होने से सन्नाटे का असर दिखायी पड रहा है। प्रधानमंत्री के आग्रह पर 22 मार्च रविवार को आम जनता घरो में कैद रहेगी। आज सुबह से ही बाजार में खरीद करने वालो की भीड रही वहीं आटा चक्की में लोगो ने बड़ी मात्रा में गेहू पिसा कर रख लिया है। सबसे बडी समस्या गांव से दूध लेकर आने वालो की है। अगर वे कल नही आये तो नागरिको के छोटे बच्चो को दूध की समस्या को झेलना होगा, मगर जनता खुशी खुशी इस समस्या को झेलने के लिए तैयार है
नगर में पसरासन्नाटा
क्योकि कोरोना उससे बडी समस्या है जिसे मौत का दूसरा रूप माना जा रहा है। हमीरपुर में जिले में अभी तक एक भी मरीज कोरोना का नही मिला है। आज महिला अस्पताल में उस समय हंगामा हो गया कि जब गोवा से आयी स्टाफ नर्स विनीता ज्वान करना चाह रही थी तो स्थानीय अन्य सहयोगी कर्मचारियों ने उससे कोरोना के टेस्ट के लिए कहा मगर उसने साफ इन्कार कर दिया। इसपर हालात बिगडे और कर्मचारियों ने काम करने को बंद करने को कहा। सीएमओ डा. आरके सचान और सीएमएस के हस्तकक्षेप से मामला शान्त हुआ। इस प्रकार आम आदमियों से अधिक स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी भी कोरोना से डरे हुए है। जिलाधिकारी डा. ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने आम जनता से अपील की है कि कोरोना से बचाव के लिए रविवार के दिन जिले के नागरिक अपने घरो में  रहेगे  तो एक बड़ी आपदा से जंग जीती जा सकती है। थोडी सी लापरवाही बडी मुसीबत को नियोता दे सकती है। जिला मुख्यालय में मास्क ढूंढे नही मिल रहा है। जो है भी वह 50 से 80 रूपया प्रति पैड की दर से बिक रहा है।

No comments