Latest News

अवैध संबंधों में दूसरे के साथ रह रही थी मां

करीब बीस दिन पहले पनकी नहर में बोरे में बंद मिली लाश, जिस महिला की थी वह बिल्हौर के कुरेह गांव से लापता हुई थी। अवैध संबंधों में दूसरे आदमी के साथ रहने और बहन की शादी का विरोध करने पर बेटे ने ही चाचा के साथ मिलकर उसे मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने आरोपित बेटे को गिरफ्तार करके उसके चाचा की तलाश शुरू की है।
बीस दिन पहले पनकी नहर में मिली थी लाश
आमजा भारत सवांददाता:- बीती 8 मार्च को पनकी पुलिस ने नहर में बोरे में बंद महिला की लाश बरादम की थी। बोरे में महिला का धड़ और कटे अंग मिले थे। पुलिस ने जब शिनाख्त का प्रयास किया तो पहचान नहीं हो सकी थी। उधर, बिल्हौर में राजस्थान से लौटे युवक ने मां के बारे में पूछा तो कुछ पता नहीं चला। उसने पुलिस को जानकारी दी तो पड़ताल शुरू हुई।

भाई ने पुलिस को बताई ये बात
बिल्हौर के कुरेह गांव निवासी दुर्गेश कुमार उर्फ बबलू ने बताया कि वह अटेली राजस्थान स्थित मुर्गी फार्म में नौकरी करता है और वहीं पर पत्नी-बच्चों समेत रहता है। गांव में पिता सोबरन लाल, बहन उर्मिला व छोटा भाई रामजीत उर्फ कुन्नू रहते हैं। होली पर गांव आया तो मां के गायब होने की जानकारी हुई, उसने भाई व घरवालों से पूछा तो कुछ ठीक जानकारी नहीं मिली। उसने पुलिस को सूचना तो पड़ताल शुरू हुई।

बेटे की गिरफ्तारी पर खुला हत्या का राज
पुलिस की जांच में सामने आया कि अवैध संबंधों में मां शिवकुमारी गांव के राम शंकर के साथ रहने लगी थी। वह कभी कल्याणपुर चली जाती थी तो कभी गांव आ जाती थी। दूसरे के साथ रहने को लेकर बेटा रामजीत और चाचा वंशी खिलाफ थे। पुलिस ने रामजीत और उसके मौसा गुलरहा निवासी भैयालाल को गिरफ्तार किया तो हत्या का पर्दाफाश हो गया।

हाथ-पैर और गर्दन काटकर मार डाला
पूछताछ में आरोपित बेटे ने कहा कि मां अवैध रूप से दूसरे के साथ रह रही थी, जिसका गांव में ताना मिलता था। दूसरे आदमी के साथ के बाद भी वह घर में दखलंदाजी करती थी, जो उसे अच्छी नहीं लगती थी। पिता और उसने मिलकर बहन का विवाह तय कर दिया था। इसकी जानकारी होने पर बीस फरवरी को वह घर आया था। इस बीच मां भी घर आई और बहन की की शादी करने का विरोध करने लगी।

बहस होने पर उसने और नशे में धुत चाचा ने चाचा वंशी व मौसा भैयालाल के साथ मिलकर उसे कुल्हाड़ी से काट दिया। गर्दन, हाथ-पैर काटकर धड़ को चादर से बांधकर कुल्हाड़ी समेत ककवन नहर में फेंक दिया था। थाना प्रभारी रविंद्र मिश्रा ने बताया कि दुर्गेश की तहरीर के आधार पर भाई, चाचा और मौसा के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोपित भाई रामजीत उर्फ कुन्नू व मौसा गुलरहा निवासी भैयालाल को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है, जबकि तीसरे आरोपित चाचा वंशी की तलाश की जा रही है।

No comments