Latest News

बारिश व ओला वृष्टि से किसानों की 40 फसदी से फसलें चौपट

माधौगढ़ (जालौन), अजय मिश्रा । कुछ दिन पूर्व ही बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की फसल चैपट होने से अच्छा खासा खामियाजा भुगतना पढ़ रहा है यदि देखा जाये तो इन दिनों मार्च, अप्रैल के माह में किसानों की फसल कटने को आ जाती है। लेकिन कुदरत के आगे किसान बेबस लाचार है।
माधौगढ़ क्षेत्र के ग्राम चितौरा, कुरसेड़ा, कुरौती, सुल्तानपुरा, अन्य गांव में बारिश व ओलावृष्टि होने से किसानों का भारी मात्रा में नुकसान हेै गेहूँ, चना, सरसों अन्य फसलों में लगभग यदि देखा जाये तो 40 प्रतिशत से अधिक नुकसान है। इस भारी नुकसान से हताशा झेल रहे किसानों ने सड़कों पर उतर कर नुकसान से परेशान होकर
मौसम की मार से बर्बाद हुयी फसल को देखता किसान।
सरकार से मुआवजे की मांग करते हुए प्रदर्शन किया था व इस संबंध में उच्च अधिकारियों को किसानों द्वारा ज्ञापन भी दिया गया था व आला अधिकारियों ने किसानों के दर्द व पीड़ा को समझते हुए इस बात का आश्वासन दिया था कि आपकी बात को सरकार तक पहुंचाने का काम किया जायेगा व मुआवजे की धन राशि किसानों तक पहुंचायी जायेगी। किसानों की लाचारी साफ झलक कर आंखों व मस्तिष्क पर चिंतित लकीरें वयां कर देती है। खेतों में बुआई सेे लेकर फसल की रखवाली के लिये सर्द रातों में अन्ना पशुओं से फसलों की रक्षा करने के बाद जब फसल कटाई के समीप आयी तो कुदरत की मार से किसानों के अरमानों पर वज्रापात हो गया। इन समस्याओं में घिरा लाचार बेबस है किसान बारिश व ओला वृष्टि से हुए किसानों का 40 फीसदी से अधिक मात्रा में नुकसान के मुआवजे की मांग किसानों ने सरकार से की है।

No comments