Latest News

हैलो...पुलिस कंट्रोल रूम, मैं और बच्चे 2 दिनों से भूखे हैं, सुन हरकत में आई पुलिस, पहुंचाया राशन

हैलो...पुलिस कंट्रोल रूम। मैं और मेरे बच्चे दो दिनों से भूखे हैं। घर पर खाने को कुछ भी नहीं है। यहां तक कि कुछ खरीदने को पैसे भी नहीं हैं। ऐसा रहा तो जीना मुश्किल हो जाएगा। 112 कंट्रोल में जब ये सूचना मिली तो पुलिस तुरंत हरकत में आई।
कानपुर आमजा भारत संवाददाता:- पनकी थाने की पीआरवी नंबर 0409  के पुलिसकर्मी पनकी के गंभीरपुर गांव पहुंचे। परिवार वालों से मिले। सब्जी, राशन और दूध उपलब्ध कराया। उसके बाद कुछ नकद पैसे देकर मदद भी की। साथ ही आश्वासन दिया कि अगर दोबारा जरूरत पड़े तो बेफिक्र होकर कॉल कर लेना। पुलिस प्रशासन आपके साथ है। यह सुनकर पूरा परिवार आश्वस्त हुआ।

साहब फैक्ट्रियां बंद हैं, काम नहीं मिल रहा जिस परिवार की पुलिस ने मदद की उसके मुखिया ने बताया कि जब महामारी का प्रकोप बढ़ा तो फैक्ट्रियां बंद हो गईं। वह फैक्ट्रियों में मजदूरी कर गुजर बसर करते हैं। लिहाजा काम ठप हो गया। जो जमा पूंजी थी वो सप्ताह भर में खत्म हो गई। अब एक-एक पहर की रोटी मिलना मुश्किल हो गया है।
मजदूरों को बांटे फल और राशन
बर्रा इंस्पेक्टर रणजीत राय ने बुधवार को क्षेत्र के गरीब मजदूरों आदि को फल वितरित किये। कुछ को सब्जियां भी खरीदकर दीं। उधर सीसामऊ सीओ त्रिपुरारी पांडेय ने अपने सर्किल यानी तीन थाना क्षेत्रों में राशन, सब्जी और दूध वितरित किया। साथ ही उन्होंने फूड के पैकेट भी बंटवाएं। उन्होंने बताया कि जितना संभव होगा वह इस तरह से हर रोज लोगों की मदद करते रहेंगे।
पुलिस हर संभव मदद करने में लगी है। कोई भी व्यक्ति अगर किसी समस्या से परेशान है तो 112 नंबर पर कॉल कर सकता है। वहीं अन्य जो प्रशासन स्तर पर जो कंट्रोल रूम के नंबर जारी किये गए उन पर भी संपर्क किया जा सकता है।
मोहित अग्रवाल, आईजी

No comments