Latest News

सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 का चौथा चरण शुरू

जिलाधिकारी ने पीपीसी पर बच्चों को दवा पिलाकर किया अभियान का शुभारम्भ 
0 से 2 वर्ष तक के सभी बच्चों का होगा संपूर्ण टीकाकरण 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । जनपद में सोमवार को जिला महिला अस्पताल के निकट स्थित पीपीसी से सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 के चैथे चरण की शुरुआत की गई। जिलाधिकारी अमित सिंह बंसल ने उपस्थित बच्चों को दवा पिलाकर अभियान का शुभारम्भ किया। साथ ही उन्होंने कोल्ड पॉइंट पर जाकर वैक्सीन भंडारण का भी जायजा लिया।
मासूम बच्चे को दवा पिलाते और अभियान का शुभारंभ करते जिलाधिकारी अमित सिंह बंसल
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संतोष कुमार ने जानकारी दी कि 0 से 2 वर्ष तक के सभी बच्चों का संपूर्ण टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए जनपद के पांच ब्लाकों नरैनी, कमासिन, बिसंडा, महुआ और तिंदवारी में मिशन इन्द्रधनुष चलाया जा रहा है। मिशन इन्द्रधनुष 2.0 अभियान की शुरुआत 2 दिसंबर से की गई थी और यह चार माह तक चार चरणों में चलाया जाना है। अभियान के पहले तीन चरण सफलतापूर्वक संपन्न कराए जा चुके हैं। 2 मार्च से अभियान का चैथा चरण शुरू हुआ है जिसमें 2782 बच्चों व 707 गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण का लक्ष्य है। अभियान बुधवार, शनिवार व सरकारी अवकाशों को छोड़कर सात कार्य दिवसों में चलाया जाएगा। 
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. बीपी वर्मा ने बताया कि अभियान के पहले चरण में 4638 के सापेक्ष 5420 बच्चों व 1419 के सापेक्ष 1150 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया था जो क्रमशः 117 व 81 प्रतिशत था। अभियान के दूसरे चरण में 3034 के सापेक्ष 4320 बच्चों व 859 के सापेक्ष 1011 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया था जो क्रमशः 142 व 118 प्रतिशत था। वहीं तीसरे चरण में 3076 के सापेक्ष 4336 बच्चों व 744 के सापेक्ष 1087 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया था जो क्रमशः 141 व 146 प्रतिशत रहा। उन्होंने अपील की कि अभिभावक टीकाकरण से छूटे बच्चों को सत्र स्थल पर लाकर उनका टीकाकरण अवश्य कराएं ताकि कोई भी बच्चा संपूर्ण टीकाकरण से वंचित न रह जाए। 
इस अवसर पर विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलांस मेडिकल आफिसर डा. संतोष गुप्ता, जिला पुरुष अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. सम्पूर्णानन्द मिश्रा, जिला महिला अस्पताल से डा. चारु गौतम व जिला क्वालिटी एशुरांस मैनेजर डा. प्रमोद सिंह, यूनिसेफ से एसआरटीएल हरेन्द्र पवार व डीएमसी फुजैल ए. सिद्दिकी, जिला वैक्सीन कोल्ड चैन मैनेजर डा.. अंजना पटेल आदि उपस्थित रहे।

प्रदेश के 73 जनपदों और 425 ब्लाकों में चलाया जा रहा अभियान             

बांदा। विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलांस मेडिकल आफिसर डा. संतोष गुप्ता ने जानकारी दी कि मिशन इन्द्रधनुष सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया टीकाकरण कार्यक्रम है। प्रदेश के महोबा
और गोरखपुर को छोड़कर शेष 73 जनपद व 425 ब्लॉक ऐसे हैं जहां संपूर्ण टीकाकरण का प्रतिशत 80 प्रतिशत से कम है, इन सभी जिलों में 90 प्रतिशत से अधिक बच्चों को प्रतिरक्षित करना इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है। गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण को भी इस अभियान में शामिल किया गया है। मिशन इन्द्रधनुष के तहत टीबी, हेपेटाइटिस-बी, पोलियो, डिप्थीरिया, काली खांसी, टेटनस, रोटावाइरस, मीसल्स एंड रुबेला तथा हीमोफिलिस इन्फ्लुएंजा-बी (एचआईबी) से बचाव के टीके शामिल हैं।

No comments