Latest News

सफाई, विद्युत, प्रकाश की रहे बेहतर व्यवस्था: डीएम

रामायण मेला को भव्य सकुशल संपन्न कराने को अधिकारियों को सौपी जिम्मेदारी

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में 21 से 25 फरवरी तक राष्ट्रीय रामायण मेला आयोजन के संबंध में अधिकारियों व राष्ट्रीय रामायण मेला समिति के सदस्यों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक संपन्न हुई। 
जिलाधिकारी ने समिति के सदस्यों से कहा कि अपर जिलाधिकारी तथा अपर पुलिस अधीक्षक से समन्वय स्थापित कर मेला को सकुशल संपन्न कराए जाने के संबंध में कार्यक्रम तैयार करा लें। प्रतिदिन केे कार्यक्रमों की समयसीमा तय करते हुए बनाएं। उन्होंने यह भी कहा कि स्थानीय कलाकारों को भी राष्ट्रीय रामायण मेला में मंच दिया जाए। जिसमें क्षेत्र के बुंदेली गीत, नृत्य, दिवारी नृत्य आदि के भी आयोजन हों। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय रामायण मेला को भव्य तरीके से मनाया जाए। इसकी व्यवस्था पूर्व में ही तैयार करें। उन्होंने साफ-सफाई, पेयजल, विद्युत, सुरक्षा आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी की और कहा कि मेला परिसर के अलावा रामघाट व
परिक्रमा पथ पर साफ सफाई व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रहे। इसका विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होंने अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय रामायण मेला परिसर के आसपास सफाई व्यवस्था, मोबाइल, शौचालय तथा बेड़ी पुलिया से रामघाट तक विद्युत खंभों तथा खजूर के पेड़ों पर अच्छी प्रकाश व्यवस्था कराएं। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए तीन दिन के अंदर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर लें। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था को लेकर पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहे, क्योंकि महाशिवरात्रि तथा अमावस्या मेला भी है। इसको देखते हुए अपर जिलाधिकारी से कहा कि मजिस्ट्रेट भी तैनात किए जाएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि चिकित्सा व्यवस्था तथा फागिंग आदि कराएं। विद्युत व्यवस्था दुरुस्त रहे वहां पर एक मोबाइल ट्रांसफार्मर भी रखा जाए। परिवहन अधिकारी से कहा कि दो बसों का संचालन, जलापूर्ति के लिए टैंकर आदि की व्यवस्था के साथ ही जहां पर पाइप लाइन टूटी फूटी हो उसे तत्काल ठीक करा दिया जाए। जिलाधिकारी ने उप निदेशक कृषि से कहा कि रामायण मेला परिसर में मेला के दौरान जो कृषि मेला का आयोजन किया जाए उसे प्रातः दस से अपरान्ह्न एक बजे तक कराएं। उन्होंने कहा कि सभी विभाग प्रदर्शनी के स्टाल भव्य तरीके से लगाएं। विभागीय योजनाओं की लोगों को अधिक से अधिक जानकारी दें। ताकि लोग उसका लाभ उठा सकें। उन्होंने कहा कि सभी विभाग प्रस्ताव तैयार कर तत्काल प्रस्तुत करें। उन्होंने अधिकारियों से यह भी कहा कि जिन लोगों की जो जिम्मेदारी दी गई है उसे पूर्णरूपेण कार्य करते हुए मेला को सकुशल संपन्न कराएं। बैठक में अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चैधरी, प्रभागीय वन अधिकारी कैलाश प्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, उप निदेशक कृषि टीपी शाही, जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी नरेंद्र मोहन मिश्रा, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी शक्ति सिंह, राष्ट्रीय रामायण मेला के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश करवरिया, सदस्य करुणा शंकर द्विवेदी आदि मौजूद रहे।

No comments