Latest News

सांसारिक मोह माया मिथ्या, प्रभु का नाम लेने से बरसती कृपा

फतेहपुर, शमशाद खान । आईटीआई परिसर में चल रही एक सप्ताह की भागवत कथा के तृतीय दिन भी कथा सुनने वाले भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी। श्रीमद भागवत ज्ञान ने श्रोताओं को भाव-विभोर कर दिया। भागवत सुनने के लिये बड़ी संख्या में महिलाये अपने नौनिहालों के साथ पहुंची थी। गुरुवार से शुरू होकर 19 फरवरी तक वाली चलने वाली भगवत में महामण्डलेश्वर एवं केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति कथा व्यास की भूमिका में आकर दिव्य ज्ञान दे रही है। संगीतमय भगवत ज्ञान की वाणी में भगवत भजन को सभी तरह की चिंताओं को दूर
भागवत कथा में प्रवचन करतीं महामण्डलेश्वर साध्वी निरंजन ज्योति।
करने वाला बताया। उन्होंने कहा कि कथा आचार सन्त वह साधन है जिसके जरिये इंसान प्रभु की राह पर चलने के लिये प्रेरित होता है। कथा व्यास ने कहा कि कर्म के अनुसार ही व्यक्ति को जीवन मिलता है। उन्होंने सांसारिक मोह माया को मिथ्या बताया। कहा कि पूरे जीवन मनुष्य सांसरिक सुख और यश की तलाश में भटकता रहता है। लेकिन जीवन की नियति एवं अथक परिश्रम के बाद भी आत्म संतुष्टि नही मिलती। मानव संतुष्टि केवल ईश्वर के भजन और भागवत में ही मिलती है। उन्होंने कलयुग में भगवान का नाम लेने मात्र से प्रभु की कृपा बरसने की बात कही। भागवत कथा संचालन समिति की ओर से आयोजित होने वाले श्रीमद भागवत पुराण कथा सप्ताह ज्ञान यज्ञ में संगीतमय भागवत कथा में केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति की अमृतमयी वाणी से भागवत कथा सुनकर बहने वाली भक्ति की रसधार में सभी श्रोता भाव-विभोर हो गये। आज के भागवत कथा में जजमान ब्लाक प्रमुख सुतीक्षण सिंह व सत्पनीक रेखा सिंह रहीं। कथा सुनने वालो में ग्रामीणांचलो से आये हुए लोगो के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं की भी खासी भीड़ दिखाई दी।

No comments