Latest News

दिल्ली चुनाव में ईवीएम शान्ति...........

देवेश प्रताप सिंह राठौर
 (वरिष्ठ पत्रकार)

दिल्ली के चुनाव विधानसभा के हो गए हैं, कोई भी ईवीएम पर अब विपक्षी कोई भी बड़ी पार्टियों अंकुश नहीं लगा रही है। आज हम सब देखते हैं सुनते चले आए हैं अगर भारतीय जनता पार्टी की जीत होती थी तो ईवीएम मशीन खराब हो जाने का कारण जोरों पर विपक्ष के द्वारा चलाया जाता था। लेकिन अब दिल्ली की जीत के बाद ईवीएम पर ना न ही कांग्रेस, न ममता बनर्जी ,न वाम दल के कार्यकर्ता एवं नेता केजरीवाल कोई भी वरिष्ठ आपकी मशीन पर दिल्ली के चुनाव के फैसले से कुछ बोल रहा है नहीं कोई आरोप लगा रहा है क्यों यही एक गलत मानसिकता का प्रतीक रहा था। सब अपने स्वार्थ में अपनी हार को स्वीकार नहीं करते हैं, जनता का सम्मान नहीं करते हैं
,उनकी भावनाओं की कदर नहीं करते हैं, उनके जनाधार का सम्मान नहींकरते हैं ,ऐसे लोग ईवीएम मशीन खराब बताते हैं और अपने किए हुए कारनामों को छुपाने का प्रयास करते हैं मैं किसी पार्टी या दल का नहीं हूं पर सत्य रखना मेरा काम है, अव जरूरी था जनता को बताना कि आज ईवीएम पर किस तरह सांप सूंघ गया है, कोई नहीं बोल रहा नहीं चुनाव के बाद ईवीएम पर इतनी तेजी से प्रचार प्रसार चलता था जिसका कोई जवाब नहीं सब अपने किए पर पानी फेर दिया करते थे।  मुख्य चुनाव आयोग तक मसला चला जाता था उस पर बिपछ पार्टियों को चैलेंज किया करते थे ईवीएम में कोई भी तकनीकी फाल्ट या कोई भी बाहरी व्यक्ति इसे छेड़छाड़ नहीं कर सकता लेकिन उसके बावजूद विपक्ष एक धुन में सभी गाना गाते थे, ईवीएम में गड़बड़ी है आज पूरा भारत पूछ रहा है उन लोगों से जो लोगों ईवीएम को खराब बताते थे अपने कारनामों को छुपाते थे। जनता है सब जानती है।

No comments