Latest News

थमने का नाम नहीं ले रहा ताम्बेश्वर चैराहे में मूर्ति स्थापना का प्रकरण

चौराहे को धार्मिक एवं सांस्कृतिक स्थल के रूप में विकसित कराये जाने की मांग

फतेहपुर, शमशाद खान । नगर पालिका परिषद द्वारा शहर के ताम्बेश्वर मंदिर के निकट जीर्णोद्धार कार्य के तहत कराये जा रहे चैराहे के निर्माण में बोर्ड की बैठक में पारित किये गये प्रस्ताव के तहत चैराहे पर जननायक कर्पूरी ठाकुर की प्रतिमा स्थापित कर दी गयी है। जबकि इस चैराहे पर कुछ लोगों द्वारा नन्दी या ओम, त्रिशूल आदि की स्थापना कर धार्मिक एवं सांस्कृतिक स्थल के रूप में विकसित करने की मांग की जा रही है। इस मामले को लेकर सोमवार को एक बार फिर लोगों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर इस चैराहे को धार्मिक एवं सांस्कृतिक स्थल के रूप में विकसित कराये जाने की मांग उठायी। 
जिलाधिकारी को ज्ञापन देने जाते लोग।
जिलाधिकारी को दिये गये ज्ञापन में लोगों ने कहा कि नगर पालिका परिषद द्वारा ताम्बेश्वर चैराहे का सौन्दर्यीकरण किया जा रहा है। यह चैराहा शहर के पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किये जा रहे सर्वमान्य नगर देवता के मंदिर के समीप है। नगर पालिका द्वारा ताम्बेश्वर मंदिर का प्रवेश द्वार भी इस चैराहे के पास प्रस्तावित है। चैराहे को धार्मिक एवं सांस्कृतिक स्थल के रूप में विकसित किया जाना चाहिए। यदि इस चैराहे पर नन्दी की मूर्ति की स्थापना की जाती है तो यह शहर के लोगों की धार्मिक भावनाओं के सम्मान का सौहार्दिक उद्धरण होगा। इसलिए शहर के लोगों का जनमत का सम्मान करते हुए चैराहे को धार्मिक एवं सांस्कृतिक स्थल के रूप में विकसित किया जाना चाहिए। जिलाधिकारी से मांग की गयी कि चैराहे को किसी धार्मिक एवं सांस्कृतिक (नंदी, ओम, त्रिशूल) आदि के रूप में विकसित किया जाये। ताम्बेश्वर चैराहे में स्थापित कर्पूरी ठाकुर जी की मूर्ति को ससम्मान अंयत्र स्थापित करवायी जाये। इस मौके पर शुभम त्रिपाठी, योगेन्द्र द्विवेदी, नौरंग, सत्यम, मोहित, अजय, सौरभ त्रिवेदी, प्रज्जवल त्रिपाठी, शिवांश त्रिपाठी, मोनू, अंशू, मुकेश मौर्य आदि मौजूद रहे। 

No comments