Latest News

प्रतियोगिताओं के विजेताओं को किया गया सम्मानित

‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के तहत आयोजित हुई प्रतियोगिता
लघु नाटक के जरिए सांप्रदायिक सौहार्द का दिया संदेश

बांदा, कृपाशंकर दुबे । देश की एकता और अखंडता को सबल करने के उद्देश्य से ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के तहत आयोजित चित्रकला एवं प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। गोष्ठी में छात्र-छात्राओं और अभिभावकों को ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम की जानकारी दी गई। छात्र-छात्राओं ने ‘विविधता में एकता’ लघु नाटक का मंचन करते हुए सांप्रदायिक सौहार्द का संदेश दिया। प्रतियोगिता के विजेता छात्र-छात्राओं को इनामों से नवाजा गया। 
लघु नाटक प्रस्तुत करते बच्चे 
क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो, सूचना और प्रसारण मंत्रालय के तत्वाधान में शहर के कंचनपुरवा स्थि सरस्वती ज्ञान गंगा विद्यालय में सोमवार को ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के तहत आयोजित चित्रकला और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं ने भागीदारी की। इरफान, मोहम्मद सैफ, अमजद अली, शिवम रैकवार और अनुभव द्विवेदी ने ‘विविधता में एकता’ लघु नाटक का मंचन करते हुए जीवंत प्रस्तुति दी। इस मौके पर तमाम छात्र-छात्राओं ने विभिन्न गीत व संगीत के कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। देर तक चली प्रतियोगिता के परिणाम घोषित किए गए। चित्रकला एवं प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के विजेता शरीक हुसैन, शशांक, अंकिता, संदीप कुमार पाल, प्रियांशु साहू, सुमित, आकाश, मधु देवी, शालिनी मोगरे, वर्षा रैकवार, अनुष्का निगम, पलक सिंह, निशा, संदीप कुमार, काजल, मयंक बाल्मीकि, अनुज, प्रशांत, रोहित व नेहा श्रीवास्तव को पुरस्कृत किया गया। इस मौके पर आयोजित गोष्ठी में विद्यालय प्रधानाचार्य नरेंद्र सिंह चैहान ने कहा कि देश में एकता और अखंडता बरकरार रखने को इसका आयोजन किया जा रहा है। क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी तथा कार्यक्रम नोडल अधिकारी गौरव त्रिपाठी ने कहा कि अलग-अलग राज्यों की भाषा, संस्कृति, खानपान, रीति रिवाज, पहनावा को समझकर और उनकी संस्कृति से जुड़कर श्रेष्ठ भारत का निर्माण करना है। नेहा और समाज सेवी नीलेश स्वरूप ने कहा कि विविधता में एकता ही भारत की पहचान है। विद्यालय के छात्र एवं छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम कर आपसी भाईचारे एवं सौहार्द का संदेश देने का प्रयास किया। 

No comments