Latest News

हार्टअटैक से पशुपालन विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मी की मौत

कालिंजर महोत्सव में ड्यूटी के दौरान पड़ा था दिल का दौरा
कानपुर लेकर जाते समय रास्ते में दम तोड़ गया कर्मी 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । कालिंजर महोत्सव में ड्यूटी के दौरान दिल का दौरा पड़ने से पशुपालन विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की हालत बिगड़ गई। महोत्सव में ही प्राथमिक उपचार उपलब्ध कराया गया। मौके पर पहुंचे परिजन उसे लेकर अतर्रा स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे और वहां से शहर के एक प्राइवेट अस्पताल लाए। वहां पर उपचार हुआ और फिर कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया। परिजन चतुर्थ श्रेणी कर्मी को लेकर कानपुर जा रहे थे, तभी बिंदकी चैडगरा के पास उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम कराया है। 
मच्र्युरी हाउस में मौजूद मृतक के परिवारीजन
नगर कोतवाली क्षेत्र के डिंगवाही गांव निवासी जयकरन राजपूत (45) पुत्र रम्मी राजपूत पशुपालन विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी था। इन दिनों उसकी ड्यूटी कालिंजर महोत्सव में लगी हुई थी। 21 फरवरी को वह ड्यूटी कर रहा था, तभी अचानक उसे दिल का दौरा पड़ गया। सीने में तेज दर्द होने पर वह मौके पर ही गिर गया। महोत्सव में मौजूद कर्मचारियों ने स्वास्थ्य शिविर में मौजूद चिकित्सकों को दिखाया। तब तक परिजन मौके पर पहुंच गए। परिजन जयकरन को लेकर अतर्रा स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। वहां के बाद शहर के रफीक नर्सिंग होम में जयकरन का उपचार किया गया। लेकिन हालत में सुधार न होने पर जयकरन को कानपुर के लिए रेफर कर दिया गया। परिजन जयकरन को लेकर कानपुर जा रहे थे, तभी बिंदकी (चैडगरा) के पास चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की मौत हो गई। मौत की खबर मिलते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। पुकिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम कराया है। पोस्टमार्टम हाउस में मौजूद मृतक के पुत्र पवन ने बताया कि वह दो भाई दो बहन है। एक बहन की शादी हो चुकी है जबकि दूसरी बहन शालिनी शादी योग्य है। जयकरन की मौत के बाद उसकी पत्नी रामश्री और परिवारजनो का रो रोकर बुरा हाल है। पवन और परिजनों ने बताया कि पशुपालन विभाग का कोई भी अधिकारी सांत्वना देने तक नही आया।

No comments