Latest News

रसायन विज्ञान का प्रश्न पत्र देख परीक्षार्थियों के छूटे पसीने

हाईस्कूल में उर्दू, संगीत, इंटर में पांच विषयो की हुई परीक्षा 
प्रशासन की सख्ती के आगे नकलचियों के हौसले हुए पस्त

फतेहपुर, शमशाद खान । यूपी बोर्ड की परीक्षा की प्रथम पाली में हाईस्कूल की उर्दू एवं द्वितीय पाली में संगीत वादन विषय जबकि इंटरमीडियट की प्रथम पाली में उर्दू द्वितीय पाली में नागरिक शास्त्र, रसायन विज्ञान, अर्थशास्त्र, वाणिज्य व भूगोल की परीक्षा शांतिपूर्ण सम्पन्न हुई। प्रथम पाली की परीक्षा 11 बजकर 15 मिनट जबकि द्वितीय पाली की परीक्षा दोपहर दो बजे से से 5 बजकर 15 मिनट तक हुई। दोनों ही पालियों में परीक्षा
परीक्षा देकर केन्द्र से बाहर आतीं छात्राएं।
सकुशल सम्पन्न कराये जाने तक सचल दस्ते सेक्टर मजिस्ट्रेट निरन्तर भ्रमण करते रहे। देर शाम परीक्षा समाप्ति के बाद उत्तर पुस्तिकाओं को संकलन केंद्र में सकुशल जमा होने के बाद प्रशासन ने रहत की सांस ली। 
परीक्षा को नकल विहीन सम्पन्न कराये जाने के लिये बोर्ड द्वारा केवल सीसीटीवी कैमरों व वाइस रिकॉर्डर के साथ वेब कास्टिंग राउटर से लैस 109 विद्यालयों को ही परीक्षा केंद्र बनाया है। प्रथम पाली की परीक्षा में उर्दू विषय होने पर जहाँ कम परीक्षार्थी शामिल रहे। जबकि द्वितीय पाली में उर्दू, नागरिक शास्त्र, रसायन विज्ञान, अर्थशास्त्र, वाणिज्य भूगोल, जैसे महत्वपूर्ण विषय होने पर अफसरों की सांसे फूलती रही। द्वितीय पाली की परीक्षा शुरू होते ही पर्यवेक्षक समेत स्टेटिक मजिस्ट्रेट की गाड़ियां एक परीक्षा केंद्र से दूसरे परीक्षा केंद्रों की ओर दौड़ती रही। परीक्षा सम्पन्न होने तक सेक्टर मजिस्ट्रेट भी केंद्रों पर भ्रमण करते रहे। यूपी बोर्ड की परीक्षा को नकल विहीन सम्पन्न कराये जाने के लिये जिले को 13 सेक्टरों में बांटा गया है। सभी सेक्टरों पर मजिस्ट्रेटों को तैनात किया गया है। परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र दिखाए जाने के बाद ही केंद्र में प्रवेश दिया गया। जबकि परीक्षा के दौरान विद्यालय के आंतरिक सचल दस्तों के अलावा स्टेटिक टीम द्वारा भी केंद्रों पर छापेमारी की जाती रही। इंटरमीडियट के परीक्षार्थियों को रसायन विज्ञान वाणिज्य एव अर्थशास्त्र जैसे विषयों के प्रश्नपत्र देखकर पसीने छूट गये। परीक्षा केंद्रों के बाहर सुरक्षा में खाकी मुस्तैद रही। परीक्षा केंद्रों पर उप जिलाधिकारी व जिला विद्यालय निरीक्षक महेंद्र प्रताप सिंह समेत सेक्टर मजिस्ट्रेट निरन्तर भ्रमण करते रहे। प्रशासन की सख्ती का नकलचियों में भय देखा गया। दोनों पालियों की परीक्षा सकुशल नकलविहीन सम्पन्न विहीन सम्पन्न होने पर अफसरों ने राहत की सांस ली।

No comments