Latest News

अपराधियों और हिस्ट्रीशीटरों पर हो सख्त कार्रवाई: एडीजी

अपर पुलिस महानिदेशक ने एसपी कार्यालय और मटौंध थाने का किया निरीक्षण 
निरीक्षण के दौरान छिटपुट मिली कमियांे को दुरुस्त करने के दिए निर्देश 
हैप्पी टू हेल्प डेस्क में तैनात महिला आरक्षियों को किया गया पुरस्कृत 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन प्रेमप्रकाश ने बुधवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय का निरीक्षण किया। पुलिस कार्यालय में सैनिक सेल को देखा और अभिलेखों का अवलोकन किया। निरीक्षण के दौरान छिटपुट खामियां मिलने पर उन्हें तत्काल दुरुस्त करने के निर्देश दिए। एडीजी ने कहा कि अपराधियों और हिस्ट्रीशीटरों पर पैनी निगाह रखते हुए सख्त कार्रवाई की जाए। हैप्पी टू हेल्प डेस्क में तैनात महिला आरक्षियों को नगद पुरस्कार से नवाजा गया। मटौंध थाने के निरीक्षण में भी सब कुछ दुरुस्त रहा, वहां भी हैप्पी टू हेल्प डेस्क में तैनात महिला आरक्षी को सम्मानित किया। 
एडीजी प्रेमप्रकाश ने पुलिस कार्यालय के निरीक्षण दौरान जनसुनवाई की प्राथमिका को ध्यान में रखते हुये हैप्पी टू हेल्फ से हो रही जनता की समस्याओं के निस्तारण के संबंध में जानकारी ली और एक शिकायतकर्ता से फोन पर बात कर उनकी समस्या के समाधान के बारे में पूछा। शिकायतकर्ता ने एडीजी को बताया कि एसपी के निर्देश पर उनका अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है, कार्रवाई से वह संतुष्ट हैं। एडीजी ने कार्रवाई पर संतुष्टि जाहिर करते हुए हैप्पी टू हेल्प पर नियुक्त महिला आरक्षी आरती व अंजली राय को नगद पुरस्कार देकर से
एसपी कार्यालय का निरीक्षण करते एडीजी प्रयागराज जोन प्रेमप्रकाश
पुरस्कृत किया। इसके बाद एडीजी पुलिस कार्यालय में संचालित पुलिस पर्सनल समस्या निस्तारण्ड बिन्डो (सैनिक सेल) की समीक्षा की। पुसिल कर्मियोें की समस्या के सम्बन्ध में अद्यावधिक रजिस्टर का अवलोकन किया। रजिस्टर में दर्ज निरीक्षक शिवमूरत यादव की समस्या उनके सरकरी आवास में पाइप लाइन टूटी होने सम्बन्धी पाई गई। निस्तारण होने का फीड बैक लिया गया तो निरीक्षक द्वारा प्रार्थना पत्र देने के उपरान्त ही समस्या का निस्तारण हो जाने की बात बताई गई। सैनिक सेल में नियुक्त आरक्षी सुबोध कुमार को उनके द्वारा कार्य में रूचि रखने एवं अभिलेख अद्यावधिक रखने के लिए एडीजी ने नगद पुरस्कार देकर पुरस्कृत किया। एडीजी ने वाचक पुलिस अधीक्षक कार्यालय का भी निरीक्षण किया। हिस्ट्रीशीटरों की संख्या, हिस्ट्रीशीटरों की

निगरानी तथा हिस्ट्रीशीटरों की श्रेणी आदि के सम्बन्ध में जानकारी ली। साथ ही एसआर पत्रावलियों का भी अवलोकन किया। आंकिक शाखा, प्रधान लिपिक कार्यालय तथा डीसीआरबी का भी निरीक्षण एडीजी ने किया। निरीक्षण के दौरान मिली कमियों के संबंध में क्षेत्राधिकारी कार्यालय को निर्देशित करते हुए एडीजी ने कहा कि कार्यालय में संचालित सभी पटलों का पर्यवेक्षण स्वयं करें। अभिलेखों को भी समय-समय पर चेक करते रहें। इसके बाद एडीजी प्रयागराज प्रेमप्रकाश मटौंध थाने पहुंचे और निरीक्षण किया। थाने पर संचालित हेल्प डेक्स पर नियुक्त महिला आरक्षी नेहा शर्मा को भी अच्छा कार्य करने एवं फीट बैक रजिस्टर पर टिप्पणियां अंकित करने के सम्बन्ध में नकद पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। रजिस्टर नं0 08 का अवलोकन किया गया तथा कार्यालय एवं परिसर की साफ सफाई का जायजा लिया। इसके साथ ही थाने पर नियुक्त पुलिस बल की शारीरिक दक्षता को भी स्वयं कमाण्ड कर ड्रिल के माध्यम से परखा गया। निरीक्षण के दौरान डीआईजी दीपक कुमार, पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीना और अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे। 

यातायात व्यवस्था की जाए दुरुस्त 

बांदा। अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन, प्रेम प्रकाश द्वारा निरीक्षण के दौरान यातायात व्यस्वथा को सुचारू रूप से बनाये रखने एवं रात्रि कालीन यातायात को दुरूस्त करने की बात कही। इसके लिए प्रमुख चैराहो पर सिगनल लाइट लगाने के निर्देश क्षेत्राधिकारी यातायात को दिए। निरीक्षण के दौरान पुलिस उपमहानिरीक्षक चित्रकूटधाम परिक्षेत्र बांदा श्री दीपक कुमार, पुलिस अधीक्षक बांदा श्री सिद्धार्थ शंकर मीना सहित समस्त क्षेत्राधिकारी व शाखा प्रभारी मौजूद रहे। 

No comments