अलाव-पे-चौपाल: गांवों को विकसित करने पर हुआ विचार मंथन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Friday, February 14, 2020

अलाव-पे-चौपाल: गांवों को विकसित करने पर हुआ विचार मंथन

जनपद की 130 ग्राम पंचायतों में बागै, यमुना और केन किनारे हुआ चौपाल का आयोजन 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । जनपद के समस्त तहसीलों के अन्तर्गत 130 ग्राम पंचायतों में बागै, यमुना एवं केन नदी के किनारे आने वाले ग्राम पंचायतों/मजरों में नदियों के पानी की स्वच्छता तथा उपयोगिता कैसे बनाए रखा जाए, के सम्बन्ध में नदियों के किनारे ग्रामवासियों के साथा अलाव पे चैपाल और खिचड़ी भोज का अयोजन किया गया। नोडल अधिकारी नामित कर कार्यक्रम सम्पन्न कराये गए। डीएम हीरा लाल ने कैंप कार्यालय में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ गांवों को कैसे विकसित किया जाए, इस पर विचार मन्थन किया गया। इसके बाद नदी खिचड़ी भोज का आयोजन किया गया, जिसमें सभी अधिकारियों ने जमीन में बैठकर पत्तल में खिचड़ी खाई और मिट्टी के कुल्लढ़ में पानी पिया।
जिलाधिकारी हीरा लाल ने कहा कि सभी को अपने कार्य एवं दायित्वों का ठीक से निर्वहन करना चाहिए और हमेशा सोंच सकारात्मक रखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि लखनऊ, कानपुर और प्रयागराज जैसे महानगरों में विकास हो सकता है तो हमारे जनपद में विकास क्यों नही हो सकता? बस इसी विचार के साथ इन 130 ग्रामों को अगामी तीन से चार माह में पूरे देश में एक माडल लाकर रखना है और सभी अधिकारी एक-एक गांव को गोद लेकर कैसे विकासशील गांव बनाया जाए इसके विषय में विचार मंथन करें। जिलाधिकारी ने समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नालेज पार्टनर, एनजीओ जो पानी पर अच्छा कार्य कर रहे हों उनको खोजा जाए और कम से कम 10 सोशल लीडर भी खोजे जायें और पब्लिक कनेक्शन ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि नदियां हमारे शारीरिक विकास, सामाजिक विकास और आर्थिक विकास में बहुत बडा योगदान करती हैं। नदियों में तैरने से व्यायाम होता है जिससे हमारा शरीर स्वस्थ्य रहता है। नदी चैपाल तथा खिचड़ी भोज में अपर जिलाधिकारी न्यायिक संजय कुमार, मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चन्द्र वर्मा, परियोजना निदेशक आरपी मिश्र, नगर मजिस्टेªट सुरेन्द्र कुमार, उप निदेशक कृषि एके सिंह, डीआरडीए मनरेगा, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी हरिश्चन्द्र नाथ, उप जिलाधिकारी नरैनी वंदिता श्रीवास्तव, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ईश्वर नारायण, लघु सिंचाई सहायक अभियंता प्रमोद कुमार मिश्र, जिला उद्यान अधिकारी परवेज अहमद, अर्थ एवं संख्याधिकारी संजीव बघेल, अधिशसी अभियंता जल संस्थान वीरेन्द्र श्रीवास्तव, अपर जिला सूचना अधिकारी शारदा, सेवा निवृत्त प्रसाशनिक अधिकारी सईद अहमद, योगेश बाबू, अखिल भारतीय समाज सेवा संस्थान की समन्वयक प्रशंसा गुप्ता सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages