Latest News

ऋण देने में लापरवाही न करें बैंक: डीएम

डीसीसी/डीएलआरएसी की त्रैमासिक बैठक

बिजनौर, (संजय सक्सेना) जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने समस्त बैंकर्स को निर्देश देते हुए कहा कि जिन बैंकों ने बैंक के बाहर सीसीटीवी कैमरे अभी तक नहीं लगवाये हैं, वे सीसीटीवी कैमरे लगवाना सुनिश्चित करें तथा अपने बैंक की सुरक्षा में पुलिस प्रशासन का साथ दें। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन बैकों में प्राइवेट गार्डस सुरक्षा को देख रहे है, बैकर्स उन गार्डस के समस्त प्रमाण पत्रों को पूरी तरह से जाॅच लें और देख लें कि उनके विरूद्ध कोई अपराधिक मामला तो दर्ज नहीं है। 
जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय कलक्ट्रेट सभागार में डीसीसी/डीएलआरएसी की त्रैमासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे। बैठक में जिन बैंकों की ऋण जमा अनुपात की स्थिति सही नहीं पायी गयी उन पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि बैंक में जमा के अनुरूप ऋण वितरित नहीं हो रहा है जिस कारण यह प्रगति बहुत कम है। उन्होंने  संबंधित बैक अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद में चलायी जा रही योजनाओं में बैक से पात्र व्यक्तियों को ऋण उपलब्ध कराये और आगामी बैठक तक अपनी स्थिति को सुधारना सुनिश्चित करे।  उन्होने  समस्त बैकर्स को निर्देश देते हुए कहा कि जिन बैकों में महिला समूहों के खाते नही खोले जा रहे है वे बैक खाते खोलना सुनिश्चित करें और जिन बैकों में महिला समूहों के लोन लम्बित पडे हैं, वे भी यह सुनिश्चित करें कि महिला समूहों के लोन में किसी प्रकार की देरी न हो।
जिलाधिकारी ने समस्त बैंकर्स को निर्देश देते हुए कहा कि बैंकों द्वारा सरकार द्वारा चलायी जा रही योजना में ऋण देने में लापरवाही बरती जा रही है, समस्त बैंकर्स यह ध्यान दें कि सरकार गरीबों के लिए जो योजनाएं चला रही है उनमें बैकों की भागेदारी भी महत्वपूर्ण है, इसलिए बैंकर्स सरकारी योजनाओं के ऋणों कि फाइलों को पूरी गुणवत्ता के आधार पर स्वीकृत करना सुनिश्चित करें और महिला समूहों के बैंक खाते व उनकी लोन फाइलों को भी गंभीरता से लें। बैठक के दौरान उन्होंने विभिन्न ऋणों की विन्दुवार समीक्षा की और उपस्थित सभी बैक अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये और साथ ही उन्होंने सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं में उपलब्धि की समीक्षा करते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये कि बैंकों में गरीबों के लिये जो योजनाएं चलाई जा आ रही हैं उनका पूरी तरह पालन किया जाये और गरीबों को उनके रोजगार व सहायता के लिए जो प्रकरण लम्बित हैं, उनका पूरी गुणवत्ता के आधार पर निस्तारण करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने बैठक में बताया कि अग्रणी जिला कार्यालय बिजनौर में पंजाब नैशनल बैंक के द्वारा वित्तीय साक्षरता केन्द्र खोला गया है जिसके माध्यम से ग्राहकों को सरकारी योजनाओं, सामाजिक सुरक्षा योजनाओं तथा डिजिटल एवं कैशलैस लेनदेन इत्यादि के बारे में जानकारी के साथ -साथ साक्षरता केन्द्र द्वारा जन सामान्य के लिये विभिन्न स्थानों पर कैम्प लगाकर जागरूक भी किया जायेगा। 
इस अवसर पर उपनिदेशक कृषि, जिला अग्रणी बैक प्रबंधक, डीसी.एनआरएलएम, समस्त बैकर्स, सहित संबंधित विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

No comments