Latest News

गोद लिए गए क्षय रोगियों को कृषि वैज्ञानिकों ने बांटे फल

बांदा, कृपाशंकर दुबे । कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों ने करीब चार माह पूर्व गोद लिए गए क्षय रोगियों के बेहतर स्वास्थ्य की कामना करते हुए करीब दो दर्जन क्षय रोगियों को फल व मेवा से भरे पैकेट वितरित किए। साथ ही उन्हें क्षय के लक्षणों व बचाव के तरीकों से भी रूबरू कराया। 
शनिवार को पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के तहत कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डा.यूएस गौतम की अगुवाई में फल व मेवा वितरण किया। बताया गया है कि नवंबर माह में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने विश्वविद्यालय के सभी प्रोफेसरों व वैज्ञानिकों से क्षय रोगियों को गोद लेकर समाज के प्रति संवेदनशील बनने की
क्षय रोगियों को फल व मेवा वितरित करते कृषि वैज्ञानिक
प्रेरणा दी थी। जिस पर काम करते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने जिले के 79 क्षय रोगियों को गोद लिया था। शनिवार को अतर्रा सीएचसी में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कृषि वैज्ञानिकों ने 20 मरीजों को फल व मेवा के पैकेट प्रदान किए। कुलपति डा.गौतम ने बताया कि सभी प्रोफेसर व वैज्ञानिक नियमित रूप से गोद लिए रोगियों के घर जाकर उन्हें पोषणयुक्त खाद्य सामग्री देंगे और उनकी समस्याओं के निदान में उनकी हरसंभव मदद करेंगे। साथ ही कृषि विश्वविद्यालय के उन्नत बीज, फल-सब्जियों से पौधे वितरित कर रोगियों के पोषण के लिए अतिरिक्त मदद भी की जाएगी। इस मौके पर प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डॉ.देव कुमार, जिला क्षय रोग अधिकारी डा.बीपी वर्मा, शीतल प्रसाद, दिनेश कुमार समेत तमाम लोग शामिल रहे।

No comments