Latest News

सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान शुरू

29 फरवरी तक चलेगा अभियान
205 टीमों ने शुरू किया कार्य, जिला कारागार में मिले चार संदिग्ध रोगी

बिजनौर, (संजय सक्सेना) क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान जिले में सोमवार  से प्रारम्भ हो गया | 205 टीमों को इस कार्य में लगया गया है | जिला क्षय रोग अधिकारी डा० बी०एस रावत ने जिला कारागार सहित एक दर्जन से अधिक स्थानों पर कार्यरत टीमों का निरीक्षण किया | अभियान में जिले के चिन्हित क्षेत्रों की 4.33 लाख जनसंख्या को शामिल किया गया है |
जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान 2019-20 में टीबी के मरीजों की खोज हेतु 29 फरवरी तक घर -घर अभियान चलाया जायेगा |
जिले के 10 ब्लॉक मोहम्मदपुर देवमल, नूरपुर, नजीबाबाद, जलीलपुर, धामपुर, कोतवाली, नहटौर, किरतपुर, हल्दौर,स्योहारा के चिन्हित क्षेत्रों में अभियान चलाया जा रहा है | | अभियान में जिले के चिन्हित क्षेत्रों की 433772 की आबादी को शामिल किया गया है| अभियान में करीब एक लाख घरों को आच्छादित करने का लक्ष्य रखा गया है | अभियान को सफल बनाने हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा 205 टीमों  का गठन किया गया है | गठित टीमों  में 615 कर्मी एवं स्वयंसेवी कार्यकर्त्ता एएनएम, आशा. आंगनबाड़ी तथा एनजीओ को शामिल किया गया है |    
टीमों  की निगरानी हेतु 40 पर्यवेक्षक को लगाया गया है | इस अभियान में सैम्पल की जांच हेतु 12 लैब बनाई गई हैं |
उन्होंने बताया कि  जिला कारागार में निरीक्षण के समय 42 बंदियों का परीक्षण किया गया | चार बंदियों को बलगम की जांच हेतु संदर्भित किया गया. कारागार के चिकित्सक डा० कृष्ण कांत राहुल ने बताया कि जिन बंदियों में क्षय रोग के लक्षण दिखाई देते हैं और उनका बलगम नहीं निकल रहा है उनका एक्सरे कराया जायेगा |
जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि जिन भी व्यक्तियों  का बलगम जांच हेतु आयेगा उनका दूसरा सैम्पल आने के बाद रोग की पुष्टि होगी | यदि क्षय रोग पाया जाता है तो निःशुल्क  इलाज शुरू कर दिया जायेगा, साथ ही इलाज के दौरान सभी मरीजों को पांच सौ रुपये प्रति माह पोषण हेतु दिया जायेगा | निरीक्षण टीम में डीपीसी नितिन श्रीवास्तव, एसटीएस नकुल कुमार, एसटीएलएस अरविन्द कुमार, दानिश खान शामिल रहे |

No comments