Latest News

एलआईसी को शेयर बाजार में सूचीबद्ध किये जाने का कर्मियों ने किया विरोध

केन्द्र सरकार की नीतियां देश को बना रहीं खोखला

फतेहपुर, शमशाद खान । केन्द्र सरकार द्वारा भारतीय जीवन बीमा निगम को शेयर बाजार में सूचीबद्ध किये जाने को लेकर देश की सभी शाखाओं में इसका विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। जिसके क्रम में मंगलवार को स्थानीय शाखा में भी अधिकारियों व कर्मचारियों ने सरकार के इस फैसले का कड़ा विरोध दर्ज कराते हुए इसे तत्काल वापस लिये जाने की मांग की। 
एलआईसी शाखा मुख्यालय के गेट पर प्रदर्शन करते कर्मचारी।
शहर के पटेलनगर चैराहे के समीप स्थित भारतीय जीवन बीमा निगम के कार्यालय परिसर में अधिकारियों व कर्मचारियों ने केन्द्र सरकार की नीतियों के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर कर्मचारियों ने अपना विरोध दर्ज कराते हुए सरकार के फैसले पर कड़ी आपत्ति दर्ज करायी। वक्ताओं ने प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा एलआईसी को शेयर बाजार में सूचीबद्ध किये जाने का फैसला लिया है। यह फैसला ग्राहकों के लिए अत्यंत नुकसानदायक होगा। क्योंकि देश की अर्थव्यवस्था कुछ ठीक नहीं है। ऐसे हालातों में एलआईसी को शेयर बाजार में सूचीबद्ध किया जाना उचित नहीं है। वक्ताओं ने कहा कि एलआईसी में सरकार की पूर्ण हिस्सेदारी थी। ग्राहकों को विश्वास रहता था कि उनका पैसा सुरक्षित हाथों में है। लेकिन एलआईसी को अब शेयर बाजार में ढकेलने से ग्राहकों का रूपया सुरक्षित हाथों से निकलकर बाजार में आ जायेगा। जो देश के लिए हितकर नहीं है। सभी कर्मचारियों ने केन्द्र सरकार के इस फैसले का कड़ा विरोध दर्ज कराते हुए इसे तत्काल वापस लिये जाने की मांग की। इस मौके पर दीक्षांत कुमार साहू, मनमोहन साहू, संतोष मिश्रा, शालिनी शुक्ला, अनामिका सिंह, आशीष तिवारी, हीरालाल आदि मौजूद रहे। 

No comments