Latest News

माध्यमिक से डिग्री कॉलेजों तक हालात खराब................. देवेश प्रताप सिंह राठौर (वरिष्ठ पत्रकार)

........ आज शिक्षा के क्षेत्र में आज भी बहुत ही अनियमितताएं हैं माध्यमिक हो या डिग्री कॉलेज हो सब जगह तानाशाही का रवैया चल रहा है जो भी स्कूल चल रहे हैं   स्कूलों में बैठे हुए हैं बाहुबली क्यों कहीं ना कहीं बड़े-बड़े लोगों से संपर्क में रहते हैं आज शिक्षा का स्तर इतना गिर गया है, की डिग्री कॉलेज में पढ़ाई नहीं होती है कोई भी किसी की कोई भी दिक्कत या परेशानी हो उसे सुनने वाला कोई नहीं हैसिम डालने का काम करते हैं ऐसा छात्र ने बताया है बहुत से छात्रों ने कहा है की आज की स्थित शिक्षकों की बहुत ही खराब है जो काम 5 मिनट में हो सकता है वह 5 माह तक चक्कर काटने में नहीं करते है अगर किसी प्रकार की चूक हो गई है सत्य को बता कर वह अपनी बात कर रहा है फिर भी उसे महीनों महीनों चक्कर काटने को मजबूर कर देते हैं छात्र-छात्राएं दौड़ती रहती हैं, अपनी अपनी परेशानी लिए दौड़ते रहते हैं लेकिन वहां के प्रोफेसर टीचर उन्हें मूर्ख बनाने का काम करते हैं मैंने देखा है छात्र-छात्राओं ने बहुत सी बातें बताइ है जो मैं नहीं लिख सकता शिक्षा कभी जीवन में  जानकारी प्राप्त करने के लिए पूर्वज बताया करते थे कि लोग शिक्षा बिना पैसे के देना पसंद करते थे आज पैसे देने के बावजूद भी शिक्षा का प्राप्त करना बड़ा मुश्किल है क्योंकि सर प्रोफेशनल हो गए हैं डिग्री कॉलेजों की यह हाल है प्रोफ़ेसर से लेकर वहां का टीचर कोई कालेजों में नहीं जाता है और जो कालेजों में जाते हैं  अपने चेंबर में बैठे रहते हैं और वही उनकी महफिल सजती है ।यह हालात है जानकारी के मुताबिक कॉलेजों की बहुत सी ऐसी स्थिति अवगत हुए छात्र-छात्राओं ने वायायाजीसे  लिखने में असमर्थ हूं क्योंकि बहुत सी बातें बताई गई हैं जो शिक्षा को शर्मिंदगी पैदा करेंगी लेकिन आज शिक्षा के क्षेत्र में जिस तरह की तानाशाही गुंडागर्दी व्याप्त है हम सरकार से कहना चाहेंगे इस पर ध्यान दें तथा माध्यमिक से लेकर डिग्री कॉलेज हालात बहुत खराब है। माध्यमिक स्कूल अंधाधुंध फीस वसूलते पढ़ाई के नाम से सिफर है  इनपर अंकुश लगाए यह आज की प्रथम जररूत है।

No comments