लेखपाल पर लगाया अपात्रों को पीएम आवास योजना का लाभ देने का आरोप - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, February 8, 2020

लेखपाल पर लगाया अपात्रों को पीएम आवास योजना का लाभ देने का आरोप

अधिकारियों के न मिलने से मायूस होकर लौटे पीड़ित 

फतेहपुर, शमशाद खान । किशनपुर कस्बा के वार्ड नं0 4 व 5 के ग्रामीण शनिवार को कलेक्ट्रेट आये और लेखपाल पर अपात्रों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिये जाने का आरोप लगाया। लेकिन आज कलेक्ट्रेट में अधिकारियों के न मिलने से सभी पीड़ित मायूस होकर लौट गये। बताया कि लेखपाल के भ्रष्टाचार की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर कर दी गयी है। 
कलेक्ट्रेट में बैठे पीड़ित।
किशनपुर कस्बा के वार्ड नं0 4 नरवापर व वार्ड नं0 5 तमरहटी के ग्रामीण सभासद मुरली की अगुवई में कलेक्ट्रेट पहुंचे और बताया कि वार्ड नं0 5 के जितेन्द्र कुमार, जीतू पुत्रगण प्रेमचन्द्र व वार्ड नं0 4 के दीपक कुमार सोनकर, रवि कुमार पुत्रगण मुरली ने प्रधानमंत्री आवास योजना हेतु आवेदन किया था। जो कि 181 डीपीआर में नाम सम्मिलित हो गया था। जिसकी जांच राजस्व विभाग के हल्का लेखपाल कैलाशनाथ शुक्ला व प्रदीप सिंह द्वारा की गयी थी। जांच के दौरान उनका घर देखने के बावजूद भी लेखपाल द्वारा अपात्र कर दिया गया। जबकि अपात्र व्यक्तियों से रूपया लेकर पात्र कर दिया। अपात्रों के नाम जिनसे उक्त लेखपाल द्वारा रूपया लेकर पात्र किया गया है नये डीपीआर 43 के अनुसार क्रम संख्या 27 सत्येन्द्र कुमार पुत्र जगरूप प्रसाद, क्रम संख्या 28 राजेश कुमार पुत्र जंगीलाल वार्ड नं0 5 तमरहटी, क्रम संख्या 15 जगमिया पत्नी जागेश्वर, क्रम संख्या 19 सुनीता पत्नी राम बहादुर, क्रम संख्या 20 सुग्गन पत्नी राजू उपरोक्त निवासी वार्ड नं0 6 अहिराना बहिराना, क्रम संख्या 21 नीतू देवी पत्नी राम गोपाल सिंह वार्ड नं0 9 रौताना आदि उक्त सभी के पक्के मकान बने हैं। जिसकी जांच पुनः जिला स्तरीय टीम से कराये जाने पर सारी हकीकत सामने आ जायेगी। लेखपाल पर आरोप लगाया कि वह भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और पैसा लेकर लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिला रहे हैं और पात्रों को योजना से वंचित किया जा रहा है। सभी पीड़ित कलेक्ट्रेट में काफी देर तक बैठे रहे लेकिन अधिकारियों के न होने की जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री पोर्टल पर लेखपाल के भ्रष्टाचार की शिकायत कर वापस गांव लौट गये। इस मौके पर जितेन्द्र सोनकर, राम मिलन, रवि शंकर सोनकर, राहुल सोनकर, संजय सोनकर, रवि सोनकर, जीतू सोनकर, सुखलाल, उर्मिला देवी, प्रीती देवी, सर्वेश कुमार, सपना देवी, फूलकली आदि मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages