Latest News

जनसामान्य की शिकायतों का हो गुणवत्तापरक निस्तारण

बिजनौर  (संजय सक्सेना) जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने कहा कि प्रदेश शासन की स्पष्ट मन्शा है कि तहसील दिवस सहित जनसामान्य की शिकायतों का गुणवत्तापरक निस्तारण किया जाए ताकि उन्हें राहत प्राप्त हो। उन्होंने सभी अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा तहसील दिवस में प्राप्त होने वाली शिकायतों के निस्तारण की गुणवत्ता की जांच शासन स्तर पर उच्चाधिकारियों के माध्यम से की जाती है। अतः शिकायतों के निस्तारण के अहम कार्य को गम्भीरता से लें और पूरे मानक और निर्धारित अवधि में जन सामान्य की शिकायतों का निराकरण करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय तहसील धामपुर के सभागार में आयोजित तहसील दिवस की अध्यक्षता करते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दे रहें थे।
उन्होंने कहा कि शासन की स्पष्ट मंशा है कि प्रदेश के नागरिकों को शासकीय योजनाओं एवं विकास कार्याे का लाभ पहुंचे और कोई भी पात्र व्यक्ति जन कल्याणकारी योजनाओं के फायदे से महरूम न रहें। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी अधिकारी प्राप्त शिकायतों को पूर्ण गुणवत्ता और मानक के साथ निस्तारित करना सुनिश्चित करें और शिकायतकर्ता की संतुष्टि भी निश्चित रूप, से प्राप्त कर लें, शिकायतकर्ता को संतुष्ट किये बिना शिकायत का निस्तारण स्वीकार्य नहीं होगा। यह भी निर्देश दिये कि यदि किसी शिकायत का निस्तारण किया जाना सम्भव नहीं है तो उसका स्पष्ट कारण लिखते हुए शिकायतकर्ता को अवगत कराया जाए ताकि वे अपनी शिकायत को पुनः पे्रषित प्रेषित न कर सकें। वर्तमान और लम्बित शिकायतों का निस्तारण पूर्ण गुणवत्ता के साथ सुनिश्चित करते हुए शिकायतकर्ता की संतुष्टि भी आख्या के साथ संलग्न करना सुनिश्चित करें। तहसील दिवस के मौके पर कुल 62 शिकायतें दर्ज की गयीं। इन में 06  शिकायतों का मौके पर ही विभागीय अधिकारियों के माध्यम से निराकरण करा दिया गया। तहसील दिवस के अवसर पर पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार त्यागी, डीएफओ बिजनौर, उपजिलाधिकारी धामपुर, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, तहसीलदार धामपुर, सीओ धामपुर के अलावा सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

No comments