रामचरित मानस है संग्रहणीय ग्रंथ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, February 8, 2020

रामचरित मानस है संग्रहणीय ग्रंथ

हमीरपुर, महेश अवस्थी । मुस्करा ब्लाक के खेरे परिआश्रम इमिलिया में सात दिवसीय भागवत कथा का समापन हो गया। मुख्य कथा वक्ता पंडित नर्सिंग शास्त्री व सहायक लखनलाल रोजाना दोपहर तीन बजे से 6 बजे तक
प्रवचन करते थे, अवकाश प्राप्त पुलिस इंस्पेक्टर रज्जन लाल त्रिपाठी ने मानस पर बहुत ही शिक्षाप्रद विचार रखे तो बहन मीरा कुमारी प्रजापिता ब्रम्हा कुमारी ने ईश्वरीय शक्ति का वर्णन किया। संचालन आयोजक स्वामी केशवानंद रहे। भारत स्वाभिमान के जिला संगठन मंत्री हरस्वरूप व्यास ने जीवन जीने की दिशा खान पान योग प्राणायाम पर सभी को जानकारी दी। मदन मोहन राजपूत ने सभी का आभार जताया। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages