Latest News

दिल्ली समेत मुल्क की अमन सलामती के लिये मस्जिदों में मांगी गयी दुआएं

हिंसा में अपनो को खोने वालो को सब्र व आत्मा की शांति के लिये की गयी दुआ

फतेहपुर, शमशाद खान । सीएए कानून को लेकर दिल्ली में हुई हिंसा में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने एवं देशभर में अमन शांति के लिए शुक्रवार की नमाज के बाद जनपद की सभी मस्जिदों में अमन चैन की दुआये की गई। बताते चलें कि सीएए कानून को लेकर दिल्ली के कई इलाकों में जबरदस्त हिंसा, आगजनी एव तोड़फोड़ की घटनाएं घटित हुई थी जिसने 40 से अधिक लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था, हिंसा में बड़ी संख्या में 
जुमे की नमाज में अमन चैन की दुआ मागते मुस्लिम समुदाय के लोग।
जान माल के नुकसान के बाद अब भी हालात सामान्य नही हुए है। लोग अपने परिजनों एव कारोबार को लेकर गहरी चिंता में है। दिल्ली जैसी घटनाओं को लेकर देशभर में दहशत का माहौल है। देश मे अमन चैन एवं सलामती बरकरार रखने के लिए सभी मस्जिदों से अमन चैन की दुआ की गयी। अल्लाह ताअला से मुल्क में अमन चैन एवं भाईचारा बनाएं रखने के लिए दुआएं की गयी। पीरनपुर स्थित ऊंची मस्जिद, लाला बाजार स्थित दलालों की मस्जिद, पनी मोहल्ला स्थित मोचियाने की मस्जिद के अलावा कोतवाली के निकट जामा मस्जिद समेत जनपद की मस्जिदों से लोगों ने अल्लाह ताअला की बारगाह में हाथ उठाकर राजधानी दिल्ली हिंसा में मारे गये लोगो की आत्मा की शांति के लिये दुआ की गयी। साथ ही मुल्क के सभी हिस्सों के खराब हालातों को सुधारने, दंगे फसाद बन्द होने, हालात सामान्य होने समेत बेरोजगारी, मंहगाई दूर करने के लिये अल्लाह की बारगाह में गिड़गिड़ाते हुए दुआएं की। लोगो का कहना रहा कि भारत सदियों से सभी समुदायों के एक साथ रहने वाली ऐसी जगह है जिसका समूचे विश्व मे गौरवशाली इतिहास रहा है। यह सर्वधर्म सदभाव का अनूठा संगम होने के साथ ही दुनिया मे सबसे अधिक पंथ धर्म एव भाषा बोले जाने वाला स्थान है। कहा कि देश मे अमन भाईचारा एव गंगा जमुनी तहजीब का अद्भुत मिलन है जो लोग देश का माहौल खराब करना चाहते है उनकी साजिश कभी कामयाब नही होगी। सभी धर्म के लोग जिस तरह एक साथ मिल-जुलकर रहते आये है आगे भी एकता भाई चारे की पूरी दुनिया के लिये मिसाल साबित होंगे।

No comments