Latest News

मॉडल झकरकटी बस अड्डा बनाने के लिए फिर टेंडर

शहीद मेजर सलमान खान अंतरराज्यीय झकरकटी बस अड्डे को पीपीपी मॉडल से विकसित करने के लिए अब दोबारा टेंडर प्रक्रिया होगी। पूर्व में हुई टेंडर प्रक्रिया निरस्त कर दी गई है। नए सिरे से टेंडर प्रक्रिया कराने के लिए परिवहन मुख्यालय को प्रस्ताव भेजा गया है।
कानपुर गौरव शुक्ला:- डिजिटल इंडिया योजना के तहत झकरकटी बस अड्डा समेत 21 बस अड्डों को पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) के तहत यात्रियों की सुविधाओं में इजाफा करते हुए विकसित करने का प्रस्ताव परिवहन मुख्यालय द्वारा शासन को भेजा गया था। इसमें वातानुकूलित यात्री प्रतीक्षालय, शापिंग मॉल, बस अड्डे पर मनोरंजन के साधन, 100 से अधिक कमरे, छह स्क्रीन सिनेमा हाल, वाहनों के लिए पार्किग, बसों प्लेटफार्म, समयसारिणी का इलेक्ट्रानिक्स डिस्प्ले, चालक, परिचालकों के लिए विश्रामालय, मोबाइल चार्जिग प्वाइंट आदि तैयार किया जाना था। झकरकटी बस अड्डे से इलेक्ट्रिक बसों के संचालन के लिए यहां आपात चार्जिग प्वाइंट की भी व्यवस्था होनी थी। पीपीपी मॉडल के तहत बस अड्डे के विकास के लिए टेंडर प्रक्रिया भी हुई, कुछ कंपनियों ने टेंडर प्रक्रिया में भाग लिया, लेकिन काम के लिए कोई कंपनी आगे नहीं आयी, जिसके चलते अब तक कोई काम शुरू नहीं हो सका।

-----

ये भी होंगी सुविधाएं

-यात्रियों के लिए फ्री वाईफाई सुविधा

-ऑन लाइन टिकट कर सकेंगे बुक

-बसों की ऑन लाइन लोकेशन भी देख सकेंगे यात्री

-दैनिक यात्री ऑन लाइन बनवा सकेंगे एमएसटी

----

प्रक्रिया में प्रतिभाग करने के बाद कंपनियों के न आने से टेंडर प्रक्रिया निरस्त हुई है। दोबारा टेंडर कराने का प्रस्ताव मुख्यालय भेजने के निर्देश दिए हैं। दोबारा टेंडर प्रक्रिया कराकर बस अड्डे का पीपीपी मॉडल पर विकास किया जाएगा।

-एसके दुबे, मुख्य प्रधान प्रबंधक प्रशासन

No comments